Monday, July 2, 2012

डाक प्रशिक्षण केन्द्र, वड़ोदरा के स्वर्ण जयंती अवसर पर विशेष आवरण (Special Cover) का विमोचन

गुजरात, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश डाक परिमंडलों के कर्मचारियों की प्रशिक्षण सम्बन्धी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए डाक प्रशिक्षण केन्द्र, वड़ोदरा की स्थापना दिनांक ०१.०७.१९६२ को मानसिक अस्पताल परिसर, कारेली बाग़, वड़ोदरा में की गयी थी बाद में १९८५ में डाक प्रशिक्षण केन्द्र को अपने वर्तमान परिसर हवाई अड्डे के सामने, हरनी रोड, वडोदरा में स्थानांतरित किया गया इस केंद्र में डाक विभाग के समस्त कर्मचारियों और अधिकारीयों के प्रारंभिक व् सेवान्तगर्त आवासीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कीये जाते है इस प्रशिक्षण केंद्र शुरू में भारतीय डाक की परंपरागत सेवाओं की संचालन प्रक्रियाओं पर प्रशिक्षण प्रदान दिया जाता था और अब इसके अलावा भारतीय डाक की प्रीमियम सेवाओं और सॉफ्टवेयर के संचालन की प्रक्रिया पर आधुनिक उपकरणों का उपयोग करके प्रशिक्षण दिया जाता है इस केंद्र में प्रशिक्षण कार्यक्रमों को अभिकल्पित व् आयोजित करने के सुविधा है तथा यह केंद्र की वार्षिक १००००० व्यक्ति दिन प्रशिक्षण नियंत्रित करने के क्षमता है

डाक प्रशिक्षण केन्द्र, वड़ोदरा के स्वर्ण जयंती समारोह पर एक विशेष आवरण (Special Cover) का विमोचन ०१.०७.२०१२ को डाक प्रशिक्षण केन्द्र, वड़ोदरा के पद्मिनी सभा गृह में आयोजित समारोह में किया गया श्री कमलेश्वर प्रसाद, सदस्य (एचआरडी), डाक सेवा बोर्ड, नई दिल्ली ने यह विशेष आवरण जारी किया इसी अवसर पर डाक प्रशिक्षण केन्द्र ने डाक संचालन और प्रबंधन पर एक त्रैमासिक पत्रिका का प्रकाशन भी शुरू किया है, इस पत्रिका का प्रथम अंक भी इस अवसर पर जारी किया गया

इस अवसर पर श्री गणेश वी. सावलेश्वरकर, निदेशक, डाक प्रशिक्षण केन्द्र, वडोदरा ने डाक प्रशिक्षण केन्द्र के इतिहास के बारे में जानकारी दी

श्री ए.के. ए. जोशी, पीएमजी, विजयवाड़ा और पूर्व निदेशक पीटीसी, वडोदरा, श्रीमती वी. टी. शेठ, सेवानिवृत्त मुख्य महा डाकपाल (CPMG), गुजरात सर्किल और पूर्व निदेशक, पीटीसी, वडोदरा ने भी समारोह में भाग लिया इस अवसर पर उपस्थित अन्य गणमान्य व्यक्तियों में पीएमजी, वडोदरा, पीएमजी, राजकोट, डीपीएस, वडोदरा और डीपीएस, अहमदाबाद भी सामिल थे

साभार : प्रशांत पंड्या
Post a Comment