Monday, November 19, 2012

भारतीय डाक सेवा के अधिकारी रहे शम्सुर्रहमान फारूकी को ’सूफी जमील अख्तर’ सम्मान

 भारतीय डाक सेवा से सेवानिवृत्त एवं संप्रति उर्दू उपन्यासकार, आलोचक व शायर शम्सुर्रहमान फारूकी को पिछले दिनों उनके जीवनपर्यंत साहित्य सेवा हेतु कोलकाता के कला मंदिर हाल में पं. बंगाल के ’सूफी जमील अख्तर’ सम्मान से सम्मानित किया गया। इसके तहत उन्हें 51 हजार रूपये की धनराशि सहित स्मृति चिन्ह व प्रशस्ति पत्र दिया गया।

 इस मौके पर सूफी जमील अख्तर फाउंडेशन के महासचिव डा0 शकील अख्तर, कहानीकार अनीस रफी, सिद्दीक आलम, शब्बीर अहमद, ड्रामा निगार, जहीर अनवर, आलोचक मोईद रशीदी आदि ने श्री फारूकी के साहित्यिक सेवाओं एवं योगदान पर प्रकाश डाला।

इससे पूर्व श्री फारूकी को बिरला फाउन्डेशन द्वारा प्रतिष्ठित सरस्वती सम्मान, पद्मश्री, साहित्य अकादमी पुरस्कार, उ.प्र. बिहार, पं. बंगाल, दिल्ली, हरियाणा आदि राज्यों का सम्मान सहित 2010 में पाकिस्तान का सितारा-ए-इम्तियाज भी मिल चुका । श्री फारूकी भारतीय डाक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी पद से सेवानिवृत्त पश्चात संप्रति इलाहाबाद में रहकर सृजनरत हैं।
Post a Comment