Wednesday, May 15, 2013

डाक विभाग में हो रहे परिवर्तनों से रूबरू हुए सहायक डाक अधीक्षक/ निरीक्षक



इलाहाबाद डाक परिक्षेत्र के सहायक डाक अधीक्षकों/डाक निरीक्षकों को डाक विभाग में नित हो रहे परिवर्तनों से रूबरू कराने के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन 14 मई को पोस्टमास्टर जनरल कार्यालय इलाहाबाद में किया गया। कार्यशाला का उद्घाटन इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवायें श्री कृष्ण कुमार यादव द्वारा किया गया । इस अवसर पर कुल 40 सहायक डाक अधीक्षकों/डाक निरीक्षकों ने कार्यशाला में भाग लिया। इस अवसर पर विभिन्न डाक सेवाओं के बारे में पावर प्वाइंट द्वारा प्रस्तुति देकर डाक अधिकारियों को अद्यतन व प्रोत्साहित किया गया।


मुख्य अतिथि के रूप में इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवायें श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि वक्त के साथ डाक सेवाआंे में तमाम बदलाव आये हैं और अब डाक विभाग इस बदलाव को ग्रामीण स्तर तक ले जाने की प्रक्रिया में है। उन्होंने कहा कि आज का दौर कम्प्यूटर एवं टेक्नालोजी का है और यदि समाज व राष्ट्र को प्रगतिशील बनाना है तो ग्रामीण स्तर तक इस टेक्नालोजी को पहुँचाना होगा और डाक विभाग इस दिशा में प्रयासरत है। श्री यादव ने सहायक डाक अधीक्षकों/डाक निरीक्षकों से रूबरू होने हुए कहा कि वे अधिकारियों और कर्मचारियों के बीच पुल की भांति कार्य करते हैं और इस पुल को सुदृढ़ बनाकर ही डाक सेवाओं का सम्यक क्रियान्वयन, उचित मानीटरिंग और अधिकाधिक राजस्व अर्जन किया जा सकता है। उन्होंने  हर डाक मंडल में एक प्रमुख विभाग को सम्पूर्ण बीमा संगठन एवं पन्द्रह गाँवों को सम्पूर्ण बीमा गाँव बनाने पर जोर दिया। ज्यादा से ज्यादा घरों में डाक बचत खाते खोलने का भी लक्ष्य दिया गया।

श्री यादव ने यह भी बताया कि आई0 टी0 मार्डनाइजेशन प्रोजेक्ट-2012 के तहत गाँवांे में स्थित शाखा डाकघरों को हाईंटेक किया जायेगा और वहाँ पर नेटबुक व हैण्डहेल्ड डिवाइस दिया जायेगा। यही नहीं इसके साथ-साथ मोबाइल थर्मल प्रिन्टर, स्मार्ट्कार्ड रीडर, फिंगर प्रिन्ट स्कैनर, डिजिटल कैमरा एवं सिगनेचर व दस्तावेज स्कैनिंग के लिए यन्त्र भी मुहैया कराया जायेगा ताकि ग्रामीण लोगों को इन सुविधाओं के लिए शहरों की तरफ न भागना पड़े। डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि शीघ्र ही डाकघरों को सीबीएस से जोड़ा जा रहा है। जिससे सिर्फ शहरों ही नहीं बल्कि ग्रामीण स्तर तक बैंकिग क्षेत्रों में क्रांतिकारी कदम का सूत्रपात होगा और डाकघरों के खाताधारक नेटबैंकिग, मोबाइल बैंकिंग एवं एटीएम सुविधाओं का लाभ उठा सकंेगे।

श्री यादव ने कहा कि प्रोजेक्ट ऐरो के तहत डाक सेवाओं की नियमित मानीटरिंग की जा रही है और डाकघरों का चेहरा भी ’लुक और फील’ के तहत परिवर्तित किया जा रहा है। आने वाले दिनांे में सभी डाकघरों को प्रोजेक्ट ऐरो के तहत जोड़कर नई टेक्नोलाजी एवं सीबीएस जैसी सुविधाओं से आच्छादित करते हुये और भी हाई-टेक बनाया जायेगा।

इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले सहायक अधीक्षकों व डाक निरीक्षकों को निदेशक डाक सेवायें श्री कृष्ण कुमार यादव ने सम्मानित भी किया। पुरस्कार पाने वालों में सर्वश्री बी के शर्मा, बी पी सिंह, पी सी यादव सहायक डाक अधीक्षक, पी के पाठक, मारूत नन्दन तथा विपिन यादव डाक निरीक्षक सम्मिलित थे।

इस असवर पर प्रवर अधीक्षक डाकघर श्री रहतमउल्लाह, सहायक निदेशक श्री एम पी मिश्रा, सहित तमाम अधिकारी एवं कर्मचारी गण उपस्थित थे। कार्याशाला का संचालन सहायक निदेशक  श्री आर एन यादव ने किया ।






Post a Comment