Saturday, February 1, 2014

डाक घर भी जुड़ेंगे अब कोर बैंकिंग सोल्यूशन (सी.बी.एस.) से

भारतीय डाक विभाग द्वारा इलाहाबाद प्रधान डाकघर में 31 जनवरी 2014 को वृहद स्तर पर डाक मेले का आयोजन किया गया, जिसका उद्घाटन इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव ने किया। इस अवसर पर डाक जीवन बीमा के तहत 5 करोड़, ग्रामीण डाक जीवन बीमा के तहत 5 करोड़ एवं 15,000 विभिन्न तरह के खाते खोले गये।

 डाक मेले का उद्घाटन करते हुये इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग का उद्देश्य समावेशी विकास के तहत शहरों के साथ-साथ सुदूर ग्रामीण अंचल स्थित लोगों को भी डाक बचत और बीमा योजनाओं के तहत लाना है। इसके तहत तमाम गांवों को बचत बैंक ग्राम और सम्पूर्ण ग्रामीण डाक जीवन बीमा ग्राम के तहत भी आच्छादित किया जा रहा है। श्री यादव ने बताया कि इलाहाबाद परिक्षेत्र में जहाँ विभिन्न तरह के 38 लाख खाते चल रहे हैं, वहीं इस वित्तीय वर्ष में लोगों का 96 करोड़ का डाक जीवन बीमा व 65 करोड़ का ग्रामीण डाक जीवन बीमा कराया जा चुका है।

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाकघरों को भी अब कोर बैंकिंग सोल्यूशन (सी.बी.एस.) से जोड़ा जा रहा है, जिससे ग्रामीण स्तर पर भी बैंकिंग क्षेत्रों में क्रान्तिकारी कदम का सूत्रपात होगा और डाकघरों के खाताधारक नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग एवं ए0टी0एम0 सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे । इसमें बचत अभिकर्ताओं को भी सहूलियत होगी और वे पोर्टल पर जाकर घर बैठे लोगों का पैसा जमा कर सकेगें और तद्नुसार उत्पन्न कोड डाकघर आकर बताने पर, वह लिंक हो जायेगा। यही नहीं अब अभिकर्ताओं का कमीशन उनके डाकघर बचत खाता में सीधे जायेगा। श्री यादव ने बताया कि इलाहाबाद में इलाहाबाद प्रधान डाकघर, कचेहरी प्रधान डाकघर, हाईकोर्ट, अहमदगंज, सी डी ए पेंशन व बहादुरगंज डाकघरों को मार्च 2014 तक सी.बी.एस. के तहत आरंभ किया जाना प्रस्तावित है।

इलाहाबाद मंडल के प्रवर डाक अधीक्षक श्री रहमतउल्लाह ने बीमा योजनाओं के संबंध में कहा कि ”डाक जीवन बीमा” में 6 योजनायें-सुरक्षा, संतोष, सुविधा, युगल सुरक्षा, सुमंगल व चिल्डेªन पालिसी हैं। इसके तहत वर्तमान में सरकारी/अर्द्ध सरकारी/सरकारी नियंत्रण वाली संस्थाओं  के कर्मी बीमा के पात्र हैं। इसमें निवेश की सुरक्षा पर सरकार की गांरटी, धारा 88 के तहत आयकर में छूट, कम प्रीमियम और अधिक बोनस, पालिसी पर लोन की सुविधा, देश के किसी भी डाकघर में प्रीमियम जमा करने की सुविधा और 6 महीने के अग्रिम प्रीमियम पर 1 फीसदी की छूट, 12 माह अग्रिम जमा पर 2 फीसदी की छूट दी जाती है। उन्होंने यह भी कहा कि जमा प्रीमियम पर किसी तरह का किसी प्रकार के एजेन्ट कमीशन का भार प्रस्तावक पर नहीं पड़ता है। 
सहायक निदेशक बचत श्री विजय कुमार ने कहा कि डाकघरों में निवेश की तमाम योजनायें हैं, जिनमें बचत खाता, आवर्ती जमा, सावधि जमा, मासिक आय योजना, पी. पी. एफ., सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम एवं राष्ट्रीय बचत पत्र में निवेश किया जा सकता है। 

इस अवसर पर सहायक निदेशक श्री एम एस पी मिश्रा, सहायक डाक अधीक्षक सर्वश्री आर एन यादव, विनय यादव, पी सी तिवारी, डाक निरीक्षक सर्वश्री ए के सिंह, दिलीप यादव, ज्ञानेंद्र, मानविजय सिंह, आर पी श्रीवास्वत, बृजेश शर्मा, सुश्री सबा मीना सहित तमाम अधिकारी, कर्मचारी, बचत अभिकर्तागण व नागरिक उपस्थित थे।
Post a Comment