Wednesday, September 17, 2014

डाकघरों को नया अवतार देगी सरकार

देश में ई-क्रांति लाने को डिजिटल इंडिया मिशन लांच करने के बाद सरकार डाकघरों को नया अवतार देने की तैयारी कर रही है। संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक उच्च स्तरीय समिति बनाई है, जो मौजूदा दौर की जरूरतों के अनुसार डाकघरों को आधुनिक बनाने का सुझाव देगी। प्रसाद ने बताया कि इस उच्च स्तरीय समिति के अध्यक्ष पूर्व कैबिनेट सचिव टीएसआर सुब्रमण्यम होंगे तथा यह अगले छह महीनों में अपनी रिपोर्ट दे देगी। इस समिति में आईआईएम, अहमदाबाद के पूर्व निदेशक बकुल ढोलकिया सहित प्रबंधन जगत के कई अन्य विशेषज्ञ शामिल होंगे।
प्रसाद ने कहा कि मौजूदा वक्त में आम लोगों की आवश्यकताएं, प्राथमिकताएं और अपेक्षाएं तेजी से बदल रही हैं। इन्हीं अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए लंबे समय से डाकघरों की कार्यप्रणाली में बदलाव की आवश्यकता महसूस की जा रही है। उच्च स्तरीय समिति डाकघरों को आधुनिक बनाने के उपाय सुझाएगी। उल्लेखनीय है कि देश में लगभग डेढ़ लाख डाकघर हैं। सरकार की कोशिश है कि डाकघर बैंकिंग से लेकर डाक पहुंचाने तक की सुविधाएं लोगों को मुहैया कराएं। प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत डाकसेवकों को ही बैंकिंग करेस्पोंडेंट बनाने का प्रस्ताव है।

Post a Comment