Friday, September 26, 2014

परिवर्तन और विकास की भाषा के रूप में समृद्ध हो रही है हिन्दी - केके यादव, डाक निदेशक

 हिंदी पखवाड़ा के समापन अवसर पर सिविल लाइंस स्थित इलाहाबाद प्रधान डाकघर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के आरंभ में मुख्य अतिथि इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव का प्रवर डाक अधीक्षक श्री रहमतउल्लाह ने स्वागत किया और हिंदी पखवाड़ा के दौरान आयोजित कार्यक्रमों की रूपरेखा पर प्रकाश डाला। 

इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा कि जिन देशों में अपनी मातृभाषा के प्रति सम्मान है वहाँ विकास भी ज्यादा हुआ है। ऐसे में हिन्दी को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। हिन्दी भारत की आत्मा है। इसमें देश को एक सूत्र में बांधने की पर्याप्त शक्ति है। उन्होंने कहा कि हिन्दी में विश्व भाषा बनने की क्षमता है। सृजन एवं अभिव्यक्ति की दृष्टि से यह दुनिया की अग्रणी भाषाओं में से एक है। आज हिन्दी सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के तमाम देशों में बोली जाती है। विश्व के लगभग 150 विश्वविद्यालयों में हिन्दी पढ़ाई जाती है। दुनिया में चीनी भाषा के बाद हिन्दी बोलने वालों की संख्या सर्वाधिक है। आज जहाँ कम्प्यूटर एवं इंटरनेट पर हिन्दी की लोकप्रियता चरम पर है, वहीं विदेशों से लोग भारत में हिन्दी सीखने के लिए आ रहे है। श्री यादव ने हिन्दी के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज परिवर्तन और विकास की भाषा के रूप में हिन्दी के महत्व को नये सिरे से रेखांकित किया जा रहा है।


प्रवर डाक अधीक्षक इलाहाबाद मंडल श्री रहमतउल्लाह ने कहा कि हिंदी पखवाड़े का आयोजन का उद्देश्य सिर्फ हिंदी की चिंता के लिए नहीं होता बल्कि इसकी उन्नति व प्रगति कैसी हो इसे भी संज्ञान में लेने की आवश्यकता है। सीनियर पोस्टमास्टर, प्रधान डाकघर इलाहाबाद श्री ओ. बी. सिंह ने कहा कि हिंदी पूरे देश को जोड़ने वाली भाषा है और सरकारी कामकाज में भी इसे बहुतायत में अपनाया जाना चाहिये। 

निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने इस अवसर पर हिंदी पखवाड़ा के दौरान प्रवर अधीक्षक डाकघर एवं इलाहाबाद प्रधान डाकघर में आयोजित कार्यक्रम के विजेताओं को सम्मानित भी किया। प्रवर अधीक्षक कार्यालय में निबंध प्रतियोगिता हेतु अंकित कुमार तिवारी, प्रियम शर्मा, प्रेम शंकर एवं स्लोगन प्रतियोगिता हेतु प्रेमशंकर, सीरत दुबे, नेहा अग्रवाल को क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया। इस क्रम में इलाहाबाद प्रधान डाकघर में हिन्दी गीत, भाषण, निबन्ध एवं स्लोगन प्रतियोगिताओं में शशिभूषण पांडेय, विभु कुमार, राधेश्याम पांडेय, जीपी मांझी, स्वाती अग्रवाल, अमर सिंह, ओमप्रकाश पांडेय, को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम का संचालन डाक निरीक्षक दीपक कुमार ने किया।

Post a Comment