Saturday, November 12, 2016

राजस्थान के शेखावटी अंचल में प्रथम डाक टिकट प्रदर्शनी झुञ्झुनु में, फ्रेस्को पेंटिंग पर जारी हुआ विशेष आवरण

डाक विभाग द्वारा राजस्थान के झुंझुनू जिले में  दो दिवसीय डाक टिकट प्रदर्शनी 'शेखावाटीपेक्स -2016'  का आयोजन 4 व 5  नवम्बर 2016 को किया गया। शेखावटी अंचल में यह प्रथम डाक टिकट प्रदर्शनी थी, जिसमें  झुंझुनू के अलावा सीकर और चूरू जिले भी शामिल हैं।
प्रदर्शनी का उद्घाटन 4 नवम्बर को राजस्थान डाक परिमंडल के मुख्य पोस्टमास्टर जनरल श्री बी.बी. दवे द्वारा राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र की पोस्टमास्टर जनरल श्रीमती शिउली बर्मन और  राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव के विशिष्ट आतिथ्य में किया गया।


इस अवसर पर ''शेखावटी हवेली पर फ्रेस्को पेंटिंग'' और स्वर्गीय श्री रामबिलास गजानंद शर्मा (हेडमास्टरजी) पर विशेष आवरण  और विरूपण भी जारी किया गया। मुख्य पोस्टमास्टर जनरल श्री बी.बी. दवे ने कहा कि शेखावाटी अंचल की फ्रेस्को पेंटिंग विश्व प्रसिद्ध है वहीं रामबिलास शर्मा ने अपने जीवन काल में शिक्षा के क्षेत्र में अनुपम योगदान दिया।



मुख्य पोस्टमास्टर जनरल श्री बी.बी. ने डाक टिकटों के बारे में कहा कि डाक टिकट सभ्यता, संस्कृति, विरासत, पर्यावरण, महापुरुषों और तमाम राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय घटनाक्रमों से अवगत कराता है, अत: इसे अभिरुचि के रूप में समृद्ध करने की जरुरत है। 

अपने संबोधन में  पोस्टमास्टर जनरल श्रीमती शिउली बर्मन ने कहा कि ऐसी प्रदर्शनियां निरंतर होती रहनी चाहिये, ताकि अधिक से अधिक लोग डाक टिकट संग्रह की अभिरुचि के प्रति आकर्षित हो सकें। 

राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि पत्रों और डाक टिकटों का संवेदना से गहरा रिश्ता है। डाक टिकट एक छोटा सा कागज का टुकड़ा भले ही दिखता है, पर इसका महत्व और कीमत दोनों ही काफी ज्यादा है। यही कारण है कि ई-मेल और सोशल मीडिया के इस दौर में भी आज हाथों से लिखे पत्रों और डाक टिकटों की लाखों-करोड़ों में नीलामी होती है। 

झुंझुनू मंडल के  डाक अधीक्षक श्री के. एल. सैनी  ने कहा कि डाक विभाग भारत के सबसे पुराने विभागों में है और इस प्रकार की पहल फिलेटली को युवाओं के और नजदीक लाती है। डाक टिकट संग्रहण के महत्व को उजागर करते हुए उन्होंने कहा कि दुर्लभ टिकटों का संग्रहण बेशकीमती होता है।


इस अवसर पर डाक विभाग द्वारा एक पत्र लेखन प्रतियोगिता व स्टाम्प डिजाईन प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमें 7 स्कूलों के  72 बच्चों ने भाग लिया | 
इस अवसर पर  श्री राजेश शर्मा , प्रधानाचार्य, केशव आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय, ज्यूरी सदस्य  श्री श्री आर.के. भूतड़ा एवं अजय कुमार आचार्य,  सहायक डाक अधीक्षक जोधपुर श्री तरुण शर्मा, सहायक डाक अधीक्षक झुंझुनू श्री राधेश्याम चौहान एवं श्री धर्मपाल सिंह, कार्यालय सहायक श्रीमती हेमलता सैनी, डाक निरीक्षक श्री राजेंद्र कुमावत, हरी प्रसाद कुरी एवं संदीप मोदी सहित तमाम फिलेट्लिस्ट, स्कूली विद्यार्थी और प्रबुद्धजन उपस्थित थे। आभार ज्ञापन सहायक डाक अधीक्षक झुंझुनू श्री राधेश्याम चौहान द्वारा किया गया।



Post a Comment