Wednesday, July 19, 2017

डाक विभाग द्वारा अखिल भारतीय पत्र लेखन प्रतियोगिता 'ढाई आखर' का आयोजन, 'प्रिय बापू, आप मुझे प्रेरित करते हैं' पर लिखना होगा पत्र

आपको याद है कि आपने अंतिम बार पत्र कब लिखा था। यदि नहीं, तो डाक विभाग आपके लिए एक सुनहरा मौका लेकर आया है। यदि आपका पत्र चुना गया तो पाँच हजार से पचास हजार रूपये तक का पुरस्कार भी मिलेगा। इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं  श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि  डाक विभाग की ओर से अखिल भारतीय पत्र लेखन प्रतियोगिता  'ढाई आखर' का आयोजन किया जा रहा है।  इसमें "प्रिय बापू, आप मुझे प्रेरित करते हैं"  विषय पर 15 अगस्त, 2017 तक पत्र लिखना होगा।  पत्र  डाक विभाग द्वारा जारी अंतर्देशीय पत्र अथवा लिफाफे में ही स्वीकार्य होगा,  जिसमें क्रमशः 500 और 1,000 शब्दों में अंग्रेजी, हिन्दी अथवा स्थानीय भाषा में पत्र लिखा जा सकता है। 
डाक निदेशक श्री यादव ने बताया कि इस  पत्र लेखन प्रतियोगिता में किसी भी उम्र के लोग भाग ले  सकते हैं। पहला वर्ग 18 वर्ष तक तथा दूसरा 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग का होगा। शहरों में  पत्र को प्रधान डाकघर या अन्य वितरण डाकघरों में इसके लिए निर्दिष्ट लेटर बॉक्स में ही  डालना होगा, जबकि गाँवों में लोग इसे अपने शाखा डाकपाल के माध्यम से भेज  सकते हैं।  पत्र में अपना पूरा नाम, पता व जन्मतिथि के प्रमाण-पत्र  सहित चीफ पोस्टमास्टर जनरल, राजस्थान परिमंडल, जयपुर-302007  के पते पर 15 अगस्त, 2017 तक निर्धारित लेटर बॉक्स में  डाल दें। 

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि  प्रतियोगिता के विजेताओं को राज्य और राष्ट्रीय स्तरों पर तीन-तीन पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। इनमें परिमंडलीय (राज्य) स्तर पर चयनित श्रेष्ठ पत्रों को प्रथम, द्वितीय व तृतीय श्रेणी में क्रमश: पचीस हजार, दस हजार व  पांच हजार रूपए का पुरस्कार दिया जायेगा। अखिल भारतीय स्तर पर चयनित श्रेष्ठ पत्रों को प्रथम, द्वितीय व तृतीय श्रेणी में क्रमश: पचास हजार, पचीस हजार व दस हजार रूपए का पुरस्कार दिया जायेगा। चयनित पत्रों  के लेखकों को पुरस्कार के साथ टाइटल से भी सम्मानित किया जाएगा। चयनित पत्रों  को 2 अक्टूबर, 2017 को साबरमती आश्रम, गुजरात  में  आयोजित समारोह में  पुरस्कृत किया जाएगा  और एक विशेष  प्रदर्शनी में प्रदर्शित भी किया जायेगा।


Post a Comment