Wednesday, October 11, 2017

‘राष्ट्रीय डाक सप्ताह’ के तहत ‘बैंकिंग दिवस’ : आज भी डाकघरों की बचत योजनाएं सर्वाधिक लोकप्रिय

डाक विभाग द्वारा 'राष्ट्रीय डाक सप्ताह' के तहत 10 अक्टूबर को  बैंकिंग दिवस के रूप में मनाया गया।  शास्त्री नगर मुख्य डाकघर, जोधपुर  में आयोजित कार्यक्रम में राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के पोस्टमास्टर जनरल श्री वीसी रॉय और निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने इसका शुभारम्भ किया और विभिन्न लाभार्थियों से संवाद किया और सुकन्याओं सहित तमाम लोगों को बचत योजनाओं की पासबुकें भी सौंपी। 
राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के पोस्टमास्टर जनरल श्री वीसी रॉय ने कहा कि आज भी डाकघरों की बचत योजनाएं सर्वाधिक लोकप्रिय हैं और इनमें लोग पीढ़ी दर पीढ़ी पैसे जमा करते हैं। डाकघरों को नई टेक्नालॉजी से जोड़कर उन्हें कस्टमर-फ्रेंडली बनाया जा रहा है।  
निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि वर्ष 1882 में आरम्भ हुई डाकघर बचत सेवाएं विस्तृत नेटवर्क और विश्वसनीयता की बदौलत  आज नए मुकाम पर खड़ी हैं।  कोर बैंकिंग और एटीएम के बाद डाकघरों में पेमेंट बैंकिंग का आगाज हो चुका है। डाकघरों को कोर बैंकिंग से जोड़ने के बाद अब  इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक आरम्भ होने से उपभोक्ताओं को  गुणवत्तायुक्त वित्तीय सेवाओं तक आसानी से पहुंच के लिए विभाग के विस्तृत नेटवर्क और संसाधनों का लाभ मिलेगा। 
'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' के तहत आरम्भ सुकन्या समृद्धि योजना की चर्चा करते हुए श्री यादव ने कहा कि जोधपुर रीजन ने "सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम" हेतु पहल करते हुए 90 से ज्यादा गाँवों में सभी बच्चियों के सुकन्या खाते खुलवा दिए हैं। 

जोधपुर  मंडल के प्रवर डाक अधीक्षक श्री बी. आर. सुथार  ने बताया कि मेले के दौरान 3,000 से ज्यादा बचत खाते, 400 सुकन्या समृद्धि खाते तथा प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के 200 प्रस्ताव प्राप्त किये गये I 
सीनियर पोस्टमास्टर श्री एस. एल. मीना  ने डाकघर में निवेश की तमाम योजनाओं के बारे में बताते हुए सभी डाकघर खाताधारकों से 31 दिसंबर तक अपने खातों को आधार से लिंक कराने के लिए कहा। 
इस अवसर पर सहायक निदेशक ईशरा राम,  उप डाक अधीक्षक आर. पी. कुशवाहा, सहायक डाक अधीक्षक  पाल सिंह सिद्धू , राजेंद्र सिंह भाटी, सुदर्शनसामरिया, विनय खत्री, उदय सेजू, डाक निरीक्षक पारसमल सुथार, संदीप मोदी  सहित डाक विभाग के तमाम अधिकारी-कर्मचारी, बचत अभिकर्तागण मौजूद रहे।


Post a Comment