Thursday, January 25, 2018

Core System Integration (CSI) rolled out in Postmaster General, Jodhpur Office

प्रधानमंत्री के महत्वाकांक्षी अभियान ‘डिजिटल इंडिया’ के तहत डाक विभाग आइटी मॉर्डनाइजेशन के माध्यम से अपनी सेवाओं का विस्तार कर रहा है। इसके तहत डाकघरों को डिजिटल इण्डिया अभियान से जोड़ने के साथ-साथ डाक विभाग अपने प्रशासनिक कार्यालयों को भी हाईटेक और पेपर लेस बनाने जा रहा है। इसी क्रम में डाक विभाग के जोधपुर स्थित क्षेत्रीय पोस्टमास्टर जनरल कार्यालय में कोर सिस्टम इंटीग्रेटर का राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने 23 जनवरी को शुभारम्भ किया। 
इस अवसर पर डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि कोर सिस्टम इंटीग्रेटर लागू हो जाने के बाद डाक विभाग पूरी तरह से पेपरलेस (कागज रहित) कार्य करने वाला पहला सरकारी विभाग बन जाएगा। जिसके परिणामस्वरूप मेल ऑपरेशन, वित्त व् लेखा, इन्वेंटरी प्रक्योरमेंट, एच. आर. और पे-रोल जैसे तमाम कार्य कोर सिस्टम इंटीग्रेशन के माध्यम से संपन्न होंगे। विभाग के सभी कागजात, कर्मचारियों की उपस्थिति, पर्सनल डाटा, सर्विस बुक, कर्मचारियों की छुट्टी आदि कार्य आनलाइन हो जाएगा। कर्मचारियों के सभी कार्यों की प्रगति विभाग के शीर्ष अफसर भी आनलाइन देख सकेंगे । 
डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि कोर सिस्टम एप्लिकेशन में सभी कार्य कोडिंग सिस्टम प्रणाली पर आधारित होंगे जो कि कमांड आधारित होंगे, जिससे कर्मचारियों के कार्य करने की क्षमता एवं दक्षता में वृद्धि होगी। डाक निदेशक श्री यादव ने कहा कि इससे मानव संसाधन प्रबंधन में भी आसानी होगी। यह कर्मचारी आंकड़ों के एक संग्रह को बनाए रखेगा और मानव संसाधन प्रशासन की गतिविधियों जैसे भर्ती, प्रशिक्षण, पदोन्नति वेतन और प्रदर्शन प्रबंधन में सुधार करेगा। यह एक आंतरिक पोर्टल भी प्रदान करेगा जो कर्मचारियों को स्वयं सेवा लेनदेन करने की अनुमति देगा, जैसे छुट्टी आवेदन, व्यक्तिगत डेटा मेंटेनेंस आदि। श्री यादव ने कहा कि इससे वित्त और लेखा सम्बंधित गतिविधियों पर भी नजर रखने में सुविधा मिलेगी। यह अकाउंटिंग ऑपरेशंस को स्वचालित कर लेगा और रोज़गार वाले कारोबारी क्षेत्रों जैसे कैश मैनेजमेंट, एसेट अकाउंटिंग, बजटिंग, इन्वेंटरी मैनेजमेंट, प्रोक्योरमेंट एंड लायबिलिटी मैनेजमेंट में बढ़ोतरी एंव कार्यकुशलता बढ़ाएगा ।
डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि इस प्रोजेक्ट के तहत जयपुर स्थित चीफ पोस्टमास्टर जनरल कार्यालय, निदेशक डाक लेखा, रेल डाक सेवा मंडल जयपुर को 9 जनवरी को कोर सिस्टम इंटीग्रेशन प्रोजेक्ट के तहत रोलऑउट किया गया है।  जोधपुर क्षेत्र में 23 जनवरी को पोस्टमास्टर जनरल कार्यालय और पाली मंडल से रोल आउट की शुरुआत की गयी है और मार्च 2018 के अंत तक राजस्थान के समस्त डाकघरो/ प्रशासनिक कार्यालयों में सीएसआई (कोर सिस्टम इंटीग्रेशन) लागू कर दिया जाएगा। जोधपुर डाक मंडल को फरवरी माह में रोल आउट किया जाना प्रस्तावित है। 

क्षेत्रीय कार्यालय के सहायक डाक निदेशक तकनीकी श्री ईशरा राम ने कहा कि कोर सिस्टम इंटीग्रेटर के लिए टी. सी. एस. द्वारा सॉफ्टवेयर तैयार किया गया है और इसके लिए स्टाफ को ट्रेनिंग भी दी गई है, ताकि वे इसे सुचारु रूप से क्रियान्वित कर सकें। 
इस अवसर पर सहायक डाक निदेशक बी.आर.राठौड़, लेखाधिकारी डी. आर. सैनी, सहायक अधीक्षक पुखराज राठौड़, अनिल कौशिक, राजेंद्र सिंह भाटी, सुदर्शन सामरिया, डाक निरीक्षक पारसमल सुथार, अनुभाग पर्यवेक्षक जे.के.थानवी, प्रेमसिंह, विनय तातेड़, विनोद पुरोहित, जितेंद्र गर्ग सहित क्षेत्रीय कार्यालय के तमाम अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।



पोस्टमास्टर जनरल कार्यालय, जोधपुर होगा पेपरलेस व डिजिटल 
कोर सिस्टम इंटीग्रेटर एप्लिकेशन का डाक निदेशक केके यादव ने किया शुभारम्भ


Post a Comment