Wednesday, March 28, 2018

राजस्थान का पहला सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि नगर बनेगा माउंट आबू - डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा आरम्भ ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत माउंट आबू एक नई इबारत लिखने जा रहा है। माउंट आबू को शीघ्र ही डाक विभाग द्वारा राजस्थान का प्रथम सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि नगर बनाया जायेगा। उक्त जानकारी माउंट आबू के दौरे पर पधारे राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने दी।  

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि बेटियों के सशक्तिकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही सुकन्या समृद्धि योजना के तहत राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र के अंतर्गत अभी तक 2,12,000 सुकन्या समृद्धि खाते खोलते हुए कुल 260 गाँवों को सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि गाँव बनाया जा चुका है। इसी कड़ी में डाक विभाग ने पहल करते हुए माउंट आबू नगर पालिका की सभी दस साल तक की योग्य बालिकाओं के सुकन्या खाते खोल, सम्पूर्ण नगर पालिका क्षेत्र को राजस्थान का प्रथम ‘सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि नगर’ बनाने का बीड़ा उठाया है।
डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि माउंट आबू में स्थित देलवाड़ा, उत्तरज एवं ओरिया गाँव में सभी योग्य बालिकाओं के खाते खोलकर इन्हें पहले ही संपूर्ण सुकन्या समृद्धि गाँव घोषित किया जा चुका है और इसी कड़ी में अब माउंट आबू नगर पालिका की सभी योग्य बालिकाओं के खाते खोलने का अभियान जारी है ताकि बालिकाओं का भविष्य सशक्त एवं समृद्ध बनाया जा सके। डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि आज बेटियाँ समाज में नित नये मुकाम हासिल कर रही हैं। ऐसे में सुकन्या समृद्धि योजना सिर्फ निवेश का एक माध्यम नहीं है, बल्कि इस योजना के आर्थिक के साथ साथ सामाजिक आयाम भी महत्वपूर्ण हैं। इसमें जमा धनराशि पूर्णतया बेटियों के लिए ही होगी, जो उनकी शिक्षा, कैरियर  एवं विवाह में उपयोगी होगी। 
सिरोही डाक मंडल के डाक अधीक्षक देवा राम पुरोहित ने बताया कि माउंट आबू नगर पालिका में 10 वर्ष तक की लगभग 1,500 बालिकाएं हैं जिनमें से अब तक 800 बालिकाओं के सुकन्या समृद्धि खाते खोले जा चुके हैं और शीघ्र ही शेष बालिकाओं के खाते खोल कर माउंट आबू नगर पालिका को ‘संपूर्ण सुकन्या समृद्धि नगर’ बनाया जायेगा। 

माउंट आबू नगर पालिका के चेयरमैन श्री सुरेश थिंगर ने कहा कि माउंट आबू नगर पालिका के लिए डाक विभाग की यह पहल एक गौरव का विषय होगा।

आबू रोड उप खण्ड के डाक निरीक्षक सत्येन्द्र सिंह ने बताया कि 10 वर्ष तक की बेटियों के लिए आरम्भ सुकन्या समृद्धि योजना में एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 1,000 और अधिकतम डेढ़ लाख रूपये तक जमा किये जा सकते हैं। इस योजना में खाता खोलने से 15 वर्ष तक धन जमा कराना होगा। आबू उप डाकघर के उप डाकपाल श्री जयंती लाल माली ने बताया कि वर्तमान में सुकन्या समृद्धि योजना खाते पर ब्याज दर 8.1 प्रतिशत है और जमा धनराशि में आयकर छूट का भी प्रावधान है।









Saturday, March 24, 2018

भारत सरकार की अग्रणी योजनाओं को लागू करने में डाक विभाग की अहम भूमिका -डाक निदेशक केके यादव

डाक विभाग प्रधानमंत्री मोदी जी की "डिजिटल इण्डिया" और "वित्तीय समावेशन" संकल्पना को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है। देश के हर कोने में, हर दरवाजे पर डाक विभाग की पहुँच है और वह लोगों के सुख-दुःख में बराबर रूप से जुड़ा हुआ है। डाक सेवाएं नवीनतम टेक्नोलोजी अपनाते हुए नित्य नए आयाम रच रही हैं। उक्त उद्गार बतौर मुख्य अतिथि श्री कृष्ण कुमार यादव, निदेशक डाक सेवाएं, राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर ने 21 मार्च 2018 को नागौर प्रधान डाकघर में आयोजित वृहद डाक मेले में व्यक्त किये। 

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक सेवाओं ने जन सरोकार के साथ नित्य नए आयाम रचे हैं।  केंद्र सरकार की तमाम अग्रणी योजनाओं को डाक विभाग के माध्यम से प्रमुखता से लागू किया गया है। उन्होने कहा कि नागौर सिटी उप डाकघर में पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र आरम्भ करने के पश्चात अब तक 4 सौ से ज्यादा लोगों के पासपोर्ट बनाए गए हैं। नागौर के प्रधान डाकघर सहित द्विपदीय डाकघरों तक कुल 25 आधार एनरोलमेंट एवं अपडेशन सेटर खोले गए हैं। 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' के तहत नागौर  जिले में लगभग 20  हजार बेटियों के सुकन्या खाते खोलने के साथ-साथ 26 गाँवों को शत-प्रतिशत सुकन्या समृद्धि गाँव बनाया जा चुका है। नागौर के तिलानेश गाँव को "सम्पूर्ण बीमा ग्राम" बनाया जा चुका है और शीघ्र ही सांसद आदर्श ग्राम को भी इसके तहत कवर किया जायेगा। श्री यादव ने कहा कि ई-कामर्स को बढ़ावा देने हेतु कैश ऑन डिलीवरी, लेटर बाक्स से नियमित डाक निकालने हेतु नन्यथा मोबाईल एप, डाकियों द्वारा एण्ड्रोयड बेस्ड स्मार्ट फोन आधारित डिलीवरी, नागौर के सभी शाखा डाकघरों को दर्पण प्रोजेक्ट के तहत हाइटेक बनाने जैसे तमाम कदम विभाग की "डिजिटल इण्डिया" के तहत की गई पहल हैं। 
डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि नागौर प्रधान डाकघर  में शीघ्र ही इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक खोला जाएगा। जिससे विभाग की सेवा और पहुँच में और भी इजाफा होगा। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक से उपभोक्ताओं के लिए आसान, कम कीमतों, गुणवत्तायुक्त वित्तीय सेवाओं की आसानी से पहुंच के लिए विभाग के विस्तृत नेटवर्क और संसाधनों का लाभ मिलेगा। इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक गांवों, कस्बों और दूरदराज के इलाकों में बैंकिंग सुविधाओं से वंचित तथा कम बैंकिंग वाले इलाकों में भुगतान बैंक के जरिए लोगों में अपनी पैठ बनाएगा।
वित्तीय समावेशन की पहल पर डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाकघरों में हर वर्ग और उम्र के हर पड़ाव के लिए अलग-अलग बचत और बीमा योजनाएँ हैं और इनमें लोग पीढ़ी दर पीढ़ी पैसे जमा करते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना के साथ-साथ देश में मुख्यधारा से वंचित लोगों व उनके परिवारों को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से आरम्भ अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना एवं प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन में भी डाकघरों द्वारा  सक्रिय भूमिका के निर्वहन का श्री यादव ने उल्लेख किया। 

कार्यक्रम में नगर परिषद, नागौर के सभापति श्री कृपा राम सोलंकी ने कहा कि डाक विभाग भारत सरकार के सबसे पुराने विभागों में से है। आमजन  आज भी डाकघरों को ज्यादा सहज व कस्टमर-फ्रेंडली पाते है। 

नागौर मंडल के डाक अधीक्षक जी. एस. शेखावत ने बताया कि डाक विभाग अपने ग्राहकों को बेहतर सेवा देने के लिए तत्पर है और इस दिशा में लोगों से समय-समय पर संवाद के साथ-साथ विभाग ने अपनी सेवाओं के व्यापक प्रचार-प्रसार पर भी जोर दिया है।
डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने इस अवसर पर तमाम योजनाओं के लाभार्थियों को पासबुक/बॉन्ड प्रदान किये। इस अवसर पर सहायक डाक अधीक्षक पुखराज राठौड़, जय सिंह वर्मा, साजन राम चौधरी,  एफ. एम. भाटी, राजेंद्र सिंह भाटी, डाक निरीक्षक देवी चंद कटारिया, नरेंद्र सिंह धवल, सुशील कुमार, इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक मैनेजर आशीष आनंद, नागौर प्रधान डाकघर के पोस्टमास्टर सी. आर. चौधरी सहित तमाम अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।











डाक सेवाओं ने जन सरोकार के साथ रचे नित्य नए आयाम -डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव

 भारत सरकार की तमाम अग्रणी योजनाओं को लागू करने में डाक विभाग की अहम भूमिका -डाक निदेशक केके यादव


Thursday, March 8, 2018

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ : जोधपुर रीजन में 250 गाँवों को डाक विभाग ने बनाया सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम

नारी-सशक्तिकरण अब सिर्फ नारा नहीं रहा, बल्कि जमीनी स्तर पर भी इसके प्रभाव दिखने लगे हैं। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान को महिलाओं ने हाथों-हाथ लिया और न सिर्फ भ्रूण हत्या को रोकने के लिए आगे आईं, बल्कि बेटियों के सुनहले भविष्य के लिए सुकन्या समृद्धि खाते भी खुलवाए। राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि पश्चिमी राजस्थान में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत लगभग 2 लाख 15 हजार खाते खोले जा चुके हैं, जिनमें करीब 134 करोड़ रूपये जमा हुए हैं।

निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि  राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर रीजन में डाक विभाग द्वारा 250 गाँवों में 10 वर्ष तक की सभी बेटियों के खाते खुलवाकर उन्हें  शत-प्रतिशत सुकन्या समृद्धि ग्राम भी बना दिया गया है। यह भी एक सुखद संयोग है कि 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' अभियान  के तहत अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के दिन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी झुंझुनू में आ रहे हैं और इसी झुंझुनू का बाय गाँव राजस्थान का प्रथम सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम बनकर नई इबारत लिख चुका  है।  


डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि समाज में बेटा या बेटी का भेद ख़त्म हो रहा है, और हर कोई अपने बच्चों का भविष्य सुनिश्चित करना चाहता है। बेटियों के प्रति राजस्थान में भी सोच तेजी से बदल रही है और लिंगानुपात में दिनों-ब-दिन वृद्धि हो रही है। ऐसे में  सुकन्या समृद्धि योजना के आर्थिक के साथ साथ सामाजिक आयाम भी महत्वपूर्ण हैं। डाक निदेशक श्री यादव ने कहा कि  ‘सुकन्या समृद्धि योजना’ नारी-सशक्तिकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। इसके माध्यम से माँएँ बेटियों के जन्म लेते ही अपनी बेटियों की उच्च शिक्षा और कैरियर के लिए डाकघरों में सुकन्या खाते खुलवा रही हैं। यही नहीं,  गाँवों में यदि किसी घर में बेटी  के  जन्म की किलकारी गूँजती  है तो डाकिया भी  तुरंत उसका सुकन्या खाता खुलवाने हेतु पहुँच जाता है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 22 जनवरी 2015 को आरम्भ सुकन्या समृद्धि योजना में जमा धनराशि पूर्णतया बेटियों के लिए ही होगी, जो उनकी शिक्षा, कैरियर  एवं विवाह में उपयोगी होगी। 10 वर्ष तक की बेटियों के लिए आरम्भ सुकन्या समृद्धि योजना में एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 1,000 और अधिकतम डेढ़ लाख रूपये तक जमा किये जा सकते हैं। इस योजना में खाता खोलने से मात्र 15 वर्ष तक धन जमा कराना होगा। बेटी की उम्र 18 वर्ष होने पर जमा राशि का 50 प्रतिशत व सम्पूर्ण राशि 21 वर्ष पूरा होने पर निकाली जा सकती है। वर्तमान में ब्याज दर 8.1  प्रतिशत है और जमा धनराशि में आयकर छूट का भी प्रावधान है।




नारी सशक्तिकरण को बढ़ावा दे रही सुकन्या समृद्धि योजना, राजस्थान के जोधपुर रीजन में 250 गाँवों को डाक विभाग ने बनाया सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम

राजस्थान में बच्चियों का बढ़ा लिंगानुपात, पश्चिमी राजस्थान में 10 साल तक की बेटियों के खुले  2 लाख 15 हजार सुकन्या खाते 

Sunday, March 4, 2018

राजस्थान के 12वें पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र का बाड़मेर प्रधान डाकघर में सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने किया उदघाटन


डाक विभाग और विदेश मंत्रालय के संयुक्त तत्वावधान में बहुप्रतीक्षित पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र का बाड़मेर में शुभारम्भ 03 मार्च, 2018 को हुआ। बाड़मेर के प्रधान डाकघर में इसका उद्घाटन मुख्य अतिथि कर्नल सोनाराम चौधरी, सांसद बाड़मेर-जैसलमेर ने श्री अमराराम चौधरी, राजस्व मंत्री, राजस्थान सरकार एवं श्री कृष्ण कुमार यादव, निदेशक डाक सेवाएँ, राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र की उपस्थिति में किया। नौ साल की बच्ची हर्षिता ने प्रथम पासपोर्ट के लिए आवेदन किया, जिसे रसीद प्रदान की गई।


       उद्घाटन पश्चात् कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा बाड़मेर को पासपोर्ट सेवा केन्द्र के रूप में ऐतिहासिक सौगात दी गई है। यह केन्द्र शुरू होने के बाद बाड़मेर के  नागरिकों के पासपोर्ट यहीं बन जाएंगे, लोगों को जोधपुर या जैसलमेर के चक्कर नहीं लगाने होंगे। युवाओं को इससे विशेष फायदा होगा। इससे समय और संसाधन दोनों की बचत होगी। सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने इसके लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज और संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा का आभार व्यक्त करते हुए  कहा कि केंद्र सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाओं से आम जन को जोड़ने में  डाक विभाग अहम भूमिका निभा रहा है।


 इस अवसर पर राजस्थान सरकार में राजस्व मंत्री श्री अमराराम चौधरी ने कहा कि बाड़मेर डाकघर में पासपोर्ट सेवा केंद्र की शुरुआत केंद्र सरकार की एक अच्छी पहल है। इससे लोगों को रोजगार के लिए आसानी से विदेश जाने के अवसर मिलेंगे।
कार्यक्रम में अपने सम्बोधन में  राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि राजस्थान में कुल 17  पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र आरम्भ किये जाने हैं, जिनमें बाड़मेर  में राज्य का  बारहवाँ  केंद्र आरम्भ किया गया है। श्री यादव ने कहा कि ऑनलाइन आवेदन के बाद आवेदक को फिंगर प्रिंट्स, फोटो तथा दस्तावेज वेरिफिकेशन के लिए  पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र में ही सुविधा मुहैया कराई जाएगी। इससे आवेदकों को स्पीड पोस्ट द्वारा उनके द्वारा दिए गए पते पर पासपोर्ट जल्द से जल्द जारी किए जाएंगे। 

 डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग प्रधानमंत्री श्री नरेंद मोदी जी द्वारा आरम्भ सभी योजनाओं के क्रियान्वयन में अग्रणी रहा है। बाड़मेर प्रधान डाकघर में शीघ्र ही इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक खुलेगा और बाड़मेर के सभी द्विपदीय डाकघरों में आधार एनरोलमेंट सेंटर खोले जायेंगे। 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' के तहत बाड़मेर जिले में 12 हजार बेटियों के सुकन्या खाते खोलने के साथ-साथ 20 गाँवों को शत-प्रतिशत सुकन्या समृद्धि गाँव बनाया जा चुका है। ग्रामीण संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी के तहत बाड़मेर के सभी शाखा डाकघरों को शीघ्र ही हैन्डहेल्ड डिवाइस के साथ हाईटेक किया जायेगा। इसके साथ ही शाखा डाकघरों में स्पीड पोस्ट की बुकिंग भी आरम्भ की गई है। बाड़मेर के लुखू गाँव को "सम्पूर्ण बीमा ग्राम" बनाया जा चुका है और शीघ्र ही सांसद आदर्श ग्राम को भी इसके तहत कवर किया जायेगा। 


इस अवसर पर श्री कृष्ण कुमार यादव, निदेशक डाक सेवाएँ, राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर ने  मुख्य अतिथि कर्नल सोनाराम चौधरी, सांसद बाड़मेर-जैसलमेर और  श्री अमराराम चौधरी, राजस्व मंत्री, राजस्थान सरकार को उनकी तस्वीर के साथ माई स्टैम्प भेंट किया, जो कि होली थीम पर आधारित था। 

अधीक्षक डाकघर बाड़मेर श्री कान सिंह राजपुरोहित ने स्वागत संबोधन दिया और सहायक  क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी जयपुर श्री बी.एल.मीना ने अतिथियों का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर सहायक डाक अधीक्षक राजेंद्र सिंह भाटी, कृतिका पालीवाल, निरीक्षक डाकघर देवाराम सुथार, दीपक कुमार, पंकज बोहरा, कुणाल कुमार नायक, प्रधान डाकघर के पोस्टमास्टर प्रेम चंद सोलंकी सहित तमाम जनप्रतिनिधिगण, अधिकारी और संभ्रांतजन उपस्थित रहे। 





Thursday, March 1, 2018

राजस्थान में खुले 10 पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र, श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ में सांसद ने किया उदघाटन

श्रीगंगानगर एवं हनुमानगढ़ में डाक विभाग और विदेश मंत्रालय के संयुक्त तत्वावधान में बहुप्रतीक्षित पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र का शुभारम्भ 26 फरवरी, 2018  को हुआ। श्रीगंगानगर प्रधान डाकघर व हनुमानगढ़ प्रधान डाकघर में इसका उद्घाटन श्री निहाल चंद, सांसद श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ और  श्री कृष्ण कुमार यादव, निदेशक डाक सेवाएँ, राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर ने किया।




उद्घाटन पश्चात् कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद श्री निहाल चंद ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़  को पासपोर्ट सेवा केन्द्र के रूप में ऐतिहासिक सौगात दी गई है। यह केन्द्र शुरू होने के बाद श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ के नागरिकों के पासपोर्ट यहीं बन जाएंगे, लोगों को जयपुर या सीकर के चक्कर नहीं लगाने होंगे। युवाओं को इससे विशेष फायदा होगा। इससे समय और संसाधन दोनों की बचत होगी। सांसद श्री निहाल चंद  ने इसके लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज और संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा का आभार व्यक्त करते हुए  कहा कि केंद्र सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाओं से आम जन को जोड़ने में  डाक विभाग अहम भूमिका निभा रहा है।

इस अवसर पर राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि राजस्थान में कुल 17  पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र आरम्भ किये जाने हैं, जिनमें हनुमानगढ़ में राज्य का 8वां और श्रीगंगानगर में 10वां केंद्र  आरम्भ किया गया है। श्री यादव ने कहा कि ऑनलाइन आवेदन के बाद आवेदक को फिंगर प्रिंट्स, फोटो तथा दस्तावेज वेरिफिकेशन के लिए पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र में ही सुविधा मुहैया कराई जाएगी। इससे आवेदकों को स्पीड पोस्ट द्वारा उनके द्वारा दिए गए पते पर पासपोर्ट जल्द से जल्द जारी किए जाएंगे।

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग प्रधानमंत्री श्री नरेंद मोदी जी द्वारा आरम्भ सभी योजनाओं के क्रियान्वयन में अग्रणी रहा है। श्रीगंगानगर प्रधान डाकघर एवं हनुमानगढ़ प्रधान डाकघर में शीघ्र ही इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक खुलेगा और सभी द्विपदीय डाकघरों में आधार एनरोलमेंट सेंटर खोले जायेंगे। 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' के तहत श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ जिले में लगभग 24 हजार बेटियों के सुकन्या खाते खोलने के साथ-साथ 22 गाँवों को शत-प्रतिशत सुकन्या समृद्धि गाँव बनाया जा चुका है। ग्रामीण संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी के तहत श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ के सभी शाखा डाकघरों को हैन्डहेल्ड डिवाइस के साथ हाईटेक किया जा चुका है। इसके साथ ही शाखा डाकघरों में स्पीड पोस्ट की बुकिंग भी आरम्भ की गई है। श्रीगंगानगर जनपद के 72 जीबी और हनुमानगढ़ जिले के पक्की डबली गाँव को "सम्पूर्ण बीमा ग्राम" बनाया जा चुका है और शीघ्र ही सांसद आदर्श ग्राम को भी इसके तहत कवर किया जायेगा।   




श्रीगंगानगर डाक मंडल के अधीक्षक श्री जी.एन. कनवाडिया ने स्वागत संबोधन दिया और वरिष्ठ अधीक्षक पासपोर्ट सेवा, जयपुर श्री पी.सी. शर्मा ने अतिथियों का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री राधेश्याम गंगानगर, नगर परिषद् सभापति अजय चांडक, अतिरिक्त जिला कलेक्टर वीरेंद्र वर्मा, सुशील श्योराण, सभापति नगर परिषद, हनुमानगढ़ श्री राजकुमार हिसारिया, सहायक डाक अधीक्षक राकेश धींगडा, अजय चुघ, सीताराम खत्री, डाक निरीक्षक श्रवण कुमार, डाक निरीक्षक सुनील गर्ग, गौरव चलाना पारसमल सुथार, हेड पोस्टमास्टर विशाल भारद्वाज, हरबंस सिंह, साहब राम वर्मा   सहित तमाम जनप्रतिनिधिगण, अधिकारी और संभ्रांतजन उपस्थित रहे।  








पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र का श्रीगंगानगर एवं हनुमानगढ़ प्रधान डाकघर में उद्घाटन 
राजस्थान में खुलेंगें 17 पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र, अब जयपुर या सीकर के नहीं लगाने होंगे चक्कर– डाक निदेशक के.के. यादव