Sunday, May 27, 2018

राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के अधीन सभी 13 जिलों में खुलेंगी ‘इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक’ की शाखायें -डाक निदेशक केके यादव

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक से उपभोक्ताओं के लिए आसान, कम कीमतों, गुणवत्तायुक्त वित्तीय सेवाओं की आसानी से पहुंच के लिए डाक विभाग के विस्तृत नेटवर्क और संसाधनों का लाभ मिलेगा। डाक विभाग-आईपीपीबी प्रणाली के एकीकृत होने से डाकघर बचत बैंक के लाखों खाते, जो इस समय एक क्लोज्ड लूप प्रणाली में कार्यरत हैं, बैंकिंग प्रणाली से जुड़ जाएंगे, जिससे पूर्ण अंतर-प्रचालनात्मकता प्राप्त होगी। इससे, डाकघर बचत बैंक ग्राहक, विभिन्न बैंकों से 24X 7 इंटरनेट बैंकिंग सुविधा, मोबाइल बैंकिंग, इलैक्ट्रॉनिक निधि अंतरण, ऑनलाइन बिल भुगतान, डिजिटल भुगतान जैसी सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे। उक्त उद्गार राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने डाक विभाग व इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की समन्वय बैठक का 25 मई को शुभारम्भ करते हुए कहीं। इस अवसर पर राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के अधीन सभी 13 जिलों के ‘इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक’ के मैनेजर्स व सभी मण्डलाधीक्षक मौजूद थे। 
डाक निदेशक श्री यादव ने कहा कि इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक विभिन्न माध्यमों द्वारा कार्य करेगा, जिनमें काउंटर प्रचालन, एटीएम/माइक्रो एटीएम, द्वार पर, मोबाइल और इंटरनेट बैंकिंग, आधार आधारित भुगतान, मोबाइल वॉलेट्स, पीओएस, एमपीओएस जैसे प्रीपेड यंत्र, यूएसएसडी/यूपीआई आदि शामिल होंगे। श्री यादव ने कहा कि इसका मुख्य फोकस ग्रामीण क्षेत्रों के सामाजिक क्षेत्र के कार्यरत लाभार्थियों, प्रवासी श्रमिकों, गैर-संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों, सूक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्यमों, पंचायतों, अल्प-आय वाले परिवारों तथा ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के बैंकिंग सुविधा से वंचित तथा अल्प बैंकिंग सुविधा वाले वर्गों पर होगा। इसके द्वारा अल्प  बैंकिंग सुविधा वाली जनता के लिए वित्तीय समावेशन कार्यक्रम की भी शुरुआत की जाएगी। 

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि  इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक  को शीघ्र ही चरणबद्ध तरीके से क्रियान्वित किया जायेगा, जिस हेतु सभी चरणों में रोल आउट होने वाले एक्सेस पॉइंट अर्थात प्रधान डाकघरों, उपडाकघरों एवं शाखा डाकघरों के चयन संबंधी प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है।  इसके अंतर्गत पायलट चरण में 5 डाकघरों का, जिनमें प्रधान डाकघर, आदर्श सांसद ग्राम के तहत चयनित उपडाकघर एवं शाखा डाकघर, द्विपदीय शाखा डाकघर तथा उनके सम्बंधित लेखा कार्यालय को वरीयता देते हुए, का चयन किया गया है।  कुल 7 चरणों में  प्रस्तावित रोल आउट में पायलट चरण में प्रत्येक इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक  शाखा के 5 एक्सेस पॉइंट, प्रथम चरण में प्रत्येक इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक शाखा के कुल एक्सेस पॉइंट का  10 %, दूसरे चरण में 20 % और इसी तरह से तीसरे, चौथे, पाँचवें  चरण में क्रमश: 20-20% एवं अंतिम चरण में बचे हुए शेष डाकघर रोल आउट किये जायेंगे ।  


आईपीपीबी के राजस्थान सर्किल के मैनेजर श्री गौतम मिश्र ने कहा की इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक आरंभ होने के बाद डाकघरों की सेवा और पहुँच में और भी इजाफा होगा। 
कार्यक्रम के आरम्भ में आईपीपीबी जोधपुर की सीनियर मैनेजर सुश्री लता चौहान ने डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव का बुके द्वारा स्वागत किया। 
तत्पश्चात दीप प्रज्वलन कर  डाक निदेशक ने कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।  स्वागत सहायक निदेशक इशरा राम, आभार मैनेजर सुनील कुमार व संचालन सहायक अधीक्षक सुदर्शन सामरिया द्वारा किया गया। 
इस अवसर पर सीनियर पोस्टमास्टर गुमान सिंह शेखावत, डाक उपाधीक्षक ओपी सोडिया, लेखाधिकारी डीआर सैनी, सहायक अधीक्षक राजेंद्र सिंह भाटी, विनय खत्री, पारसमल सुथार, मुकेश सोनी, जितेंद्र गर्ग, अमित कुमार, ओपी चांदोरा, विजय सिंह सहित तमाम अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।   
डाक विभाग और इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के समन्वय बैठक का डाक निदेशक केके यादव ने किया शुभारम्भ 
Post a Comment