Saturday, July 4, 2015

अब डाक टिकटों पर भी झलकेगी बारिश में बच्चों की मस्ती

डाक टिकटों का संचय करने वाले और कला में रूचि रखने वाले विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है,कि भारतीय डाक विभाग बाल दिवस-2015 पर जारी होने वाले डाक टिकट के लिए डाक टिकट डिजाइन प्रतियोगिता का आगाज करने जा रहा है। इस संबंध में जानकारी देते हुए राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि आगामी बाल दिवस -2015 के लिए डाक विभाग ने ’बारिश में एक दिन’ थीम पर डाक टिकट डिजाइन प्रतियोगिता की घोषणा की है, जिसके तहत 18 वर्ष से कम उम्र का कोई भी भारतीय नागरिक इस विषय पर डाक टिकट व अन्य फिलेटेलिक सामग्री हेतु अपना मौलिक डिजाइन भेज सकता है। डाक टिकट डिजाइन हेतु राष्ट्रीय स्तर पर क्रमशः 10,000, 6000 व 4000 रूपये का प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार भी दिया जायेगा। 

डाक निदेशक श्री यादव ने बताया कि यह डिजाइन इंक, वाटर व आयल कलर इत्यादि में हो सकती है, पर कम्प्यूटर प्रिन्टेंड/प्रिंट आउट की अनुमति नहीं होगी। डिजाइन के पीछे प्रतिभागी का नाम, उम्र, राष्ट्रीयता, पिन कोड के साथ आवासीय पता, फोन/मोबाइल नं0 व ई-मेल लिखा होना चाहिए। इसके साथ ही मौलिकता का एक घोषणपत्र भी संलग्न करना होगा। संबंधित प्रतिभागी स्पीड पोस्ट के माध्यम से 31 अगस्त, 2015  तक अपनी प्रविष्टियाँ सहायक महानिदेशक (फिलेटली), कक्ष संख्या 108 (बी), डाक भवन, पार्लियामेंट स्ट्रीट, नई दिल्ली-110001 पर भेज सकते हैं। स्पीड पोस्ट लिफाफे के ऊपर ’’डाक टिकट डिजायन प्रतियोगिता’’ अवश्य अंकित होना चाहिए।

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि हर किसी की चाहत होती है कि काश उसका बनाया चित्र डाक टिकट पर एक धरोहर के रूप में अंकित हो। ऐसे में यह एक सुनहरा मौका है, जहाँ डाक टिकट पर आप द्वारा बनाया मौलिक चित्र स्थान पा सकता है। ऐसे में बारिश में खेलते हुए बच्चे, सड़क पर खड़े होकर पानी में मस्ती करते हुए, नाव चलाते हुए सहित उनके द्वारा की जाने वाली विभिन्न अठखेलियों और बारिश से संबंधित अन्य तमाम विषयों पर बनाई गई प्रविष्टि को उन्हें भेजना होगा।




बाल दिवस पर डाक टिकट के लिए  ’बारिश में एक दिन’  थीम पर भेजें अपना बनाया चित्र 
डाक विभाग ने की डाक टिकट डिजाइन प्रतियोगिता की घोषणा, 18 वर्ष तक के  लोग  लें सकेंगे भाग 
Post a Comment