Friday, July 22, 2022

Post Offices have become multi-functional, hi-tech : Postmaster General Krishna Kumar Yadav

Department of Posts is not only associated with letters and money orders, but also the post offices have been made multi-purpose by providing various type of the services under one roof. All the facilities like savings, insurance, Aadhaar, Passport, Common Service Centre, India Post Payments Bank, Kashi Vishwanath Prasad and sale of Gangajal are available in the Post offices. The said statement was expressed by Postmaster General, Varanasi Region Shri Krishna Kumar Yadav, as the chief guest during his address at the Mega mela of Postal services organized by Varanasi (East) Postal Division at Sarnath, Varanasi. During this, the Postmaster General also interacted with various Gram Pradhans and citizens.

Postmaster General Shri Krishna Kumar Yadav said that even today Post office savings schemes are more popular and people are making safe investments in them from generation to generation. So far 28.70 lakh savings accounts, 5.21 lakh IPPB accounts and 2.55 lakh Sukanya Samriddhi accounts have been opened in Varanasi region till now. 686 villages have been made Sampoorna Sukanya Samriddhi Gram. Underlining the leading role of the Postal department as a valuable tool for the safe future of girls and women empowerment, he said that for their bright future, they need to be strengthened financially and socially from now on. To make it, 'Sukanya Samriddhi Yojana' launched by Prime Minister Shri Narendra Modi under 'Beti Bachao, Beti Padhao' is playing an important role.

Postmaster General Shri Krishna Kumar Yadav further told that Postman and Gramin Dak Sevaks are working as a mobile bank through India Post Payments Bank. Now no one needs to go to the bank or ATM to withdraw the DBT amount receiving in their bank accounts or amount lying in their bank accounts, but all beneficiaries or bank account holders can withdraw money from their Aadhar linked bank account through postman sitting at home. The benefit of Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana can also be availed through postman. Aadhaar is necessary to take advantage of various schemes of the government, so now the mobile number linked to Aadhaar can also be updated in Aadhaar through the postman at door steps. Shri Yadav expressed that common people do not have to wander here and there for various services and all services are made available in Post offices under one roof. For this now 73 services of central and different state governments are being catered through Common Service Center established in Post offices.

Senior Superintendent of Post Office, Varanasi East Division, Mr. Rajan said that the Department of Posts is taking initiative to make people aware about various postal schemes. More than 2,000 post office savings bank accounts and ' Sukanya Samriddhi accounts of 500 girl Childs were opened during the Daak mela. A maximum of 1.5 lakh rupees can be deposited in a financial year in the Sukanya Samriddhi account to be opened in just Rs 250. Up to 50% of the deposit amount can also be withdrawn after the girl child attains the age of 18 years or has passed class 10th. The maturity period of the account is 21 years from the date of account opening, however it can be closed at the time of marriage after the girl child attains the age of 18 years.

Senior superintendent of Post office Rajan Rao, Gram Pradhan Ashapur Santosh Pandey, Gram Pradhan Himanpur Ghanshyam Patel, Gram Pradhan Singhpur Shyam Prakash, Gram Pradhan Bariasanpur Devraj Patel, Assistant Superintendent Surendra Kumar Chaudhary, Dilip Singh Yadav, Inspector Posts Ramesh Yadav, Sarvesh Singh, Shrikant Pal, Postmaster Sarnath Sub Post Office Ramratan Pandey, Postal Assistant Shriprakash Gupta, Kulbhushan Tiwari, Nitin Pandey and other local public representatives, employees and public participated.




Various type of services  available under one roof in Post offices - Postmaster General Krishna Kumar Yadav

Sukanya Samriddhi Yojana is playing an important role in the empowerment of the girl child

Postmaster General Krishna Kumar Yadav inaugurated the Daak Mela in Sarnath


Thursday, July 21, 2022

India Post Payments Bank playing an important role to bring digital banking at doorsteps - Postmaster General Krishna Kumar Yadav

India Post Payments Bank established as an undertaking of the Department of Posts has made a new identity in a short span of time. It has played an important role in the field of financial inclusion and to cater digital banking services even in rural areas. Many social welfare schemes of the Central and State Government are being delivered through this up to the last mile of the society. Department of Posts is committed for improving the lives of citizens who do not have an easy access to insurance and other financial services. It was expressed by the Mr. Krishna Kumar Yadav, Postmaster General, Varanasi Region while inaugurating the Regional Meet of the Department of Posts and India Post Payments Bank at Varanasi. On this occasion excellent performers for IPPB were also felicitated by Postmaster General.



Postmaster General Mr. Krishna Kumar Yadav said that in present scenario  postman and Gramin Dak Sevaks are functioning as mobile banks due to being equipped with micro-ATM of IPPB. Many services like Aadhaar enrolment of children, updation of mobile number in Aadhaar, digital life certificate, DBT, bill payment, AEPS, insurance of vehicles, health insurance, accidental insurance, Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana, etc. are being provided at door steps through postman. IPPB account holders can also deposit online in other schemes of Post office like Sukanya Samriddhi Yojana, RD, PPF, Postal Life Insurance.

On this occasion, Postmaster General Mr. Krishna Kumar Yadav also launched the sale of Bajaj Allianz Life Smart Protect Goal and Bajaj Allianz Life Guaranteed Pension Goal in partnership with India Post Payments Bank. Bajaj Allianz Life Smart Protect Goal is a comprehensive and value-added term insurance product designed to provide immediate financial support to a family in the event of the untimely death of the head earner of the household. Bajaj Allianz Life Guaranteed Pension Goal is an annuity insurance plan which aims to meet the post retirement expenses of the individual as it provides guaranteed and assured regular income till his/her survival.




Mr. Vikas Dahal, AGM, IPPB said that through the wide and strong network of Department of Posts, we are committed to provide comprehensive financial solutions to our customers.

Zonal Manager, Bajaj Allianz Life Insurance Corporation said that this partnership marks a new milestone for us as we are the first life insurer to offer value -packed products to customers through the wide network of IPPB and Department of Posts.

On this occasion Postal Superintendent of all Divisions, IPPB Managers  were present along with SSPOs Rajan Rao, IPPB Chief Manager Mukesh Mishra, Senior Manager Sublesh Singh and others.



डाकघर में एक ही छत के नीचे तमाम सेवाएं उपलब्ध - पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव

डाक विभाग अब सिर्फ पत्रों व मनीऑर्डर से नहीं जुड़ा है, बल्कि एक ही छत के नीचे तमाम सेवाएं उपलब्ध कराकर डाकघरों को बहुउद्देश्यीय बनाया गया है। बचत, बीमा, आधार, पासपोर्ट, कॉमन सर्विस सेंटर, इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक, काशी विश्वनाथ प्रसाद और गंगाजल की बिक्री जैसी तमाम सुविधाएं डाकघरों में उपलब्ध हैं। उक्त उद्गार वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने वाराणसी (पूर्वी) डाक मंडल द्वारा सारनाथ में 21 जुलाई, 2022 को आयोजित डाक मेले में संबोधन के दौरान बतौर मुख्य अतिथि व्यक्त किये। इस दौरान पोस्टमास्टर जनरल ने विभिन्न ग्राम प्रधानों और नागरिकों से संवाद भी किया।

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि आज भी डाकघर की बचत योजनाएँ सर्वाधिक लोकप्रिय हैं और इनमें  लोग पीढ़ी दर पीढ़ी सुरक्षित निवेश करते आ रहे हैं। वाराणसी परिक्षेत्र में अब तक 28.70 लाख बचत खाते, 5.21 लाख आईपीपीबी खाते और 2.55 लाख सुकन्या समृद्धि खाते खोले जा चुके हैं।   686 गाँवों को सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम बनाया जा चुका है। बालिकाओं के सुरक्षित भविष्य एवं नारी सशक्तिकरण के बहुमूल्य साधन के रूप में डाक विभाग की अग्रणी भूमिका को रेखांकित करते बताया कि उनके उज्जवल भविष्य के लिए अभी से उन्हें आर्थिक व सामाजिक रूप से सुदृढ़ करने की जरूरत है। इसमें 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' के तहत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा आरंभ 'सुकन्या समृद्धि योजना'  महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। 

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के माध्यम से डाकिया और ग्रामीण डाक सेवक आज एक चलते फिरते बैंक के रूप में कार्य कर रहे हैं। किसानों सहित अन्य तमाम लाभार्थियों के बैंक खातों में आने वाली डीबीटी राशि की निकासी के लिए अब किसी को भी बैंक या एटीएम जाने की जरूरत नहीं, बल्कि घर बैठे ही सभी अपने आधार लिंक्ड बैंक खाते से डाकिया के माध्यम से निकासी कर सकते हैं। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ भी डाकिया के माध्यम से लिया जा सकता है। सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ उठाने हेतु आधार जरूरी है, ऐसे में अब घर बैठे डाकिया के माध्यम से ही आधार से लिंक मोबाइल नम्बर भी अपडेट किया जा सकता है। श्री यादव ने बताया कि आमजन को विभिन्न सेवाओं के लिए भटकना न पड़े और सारी सेवाएं एक ही छत के नीचे उपलब्ध हो सकें, इसके लिए अब डाकघरों में भी काॅमन सर्विस सेंटर के माध्यम से एक साथ केंद्र व विभिन्न राज्य सरकारों की 73 सेवाएँ मिल रही हैं।

वाराणसी पूर्वी मंडल के प्रवर अधीक्षक डाकघर श्री राजन ने कहा कि विभिन्न डाक योजनाओं के प्रति लोगों को जागरूक करने हेतु डाक विभाग द्वारा पहल की जा रही है। डाक मेले के दौरान 2,000 से ज्यादा डाकघर बचत बैंक खाते और 500 बेटियों के सुकन्या समृद्धि खाते खोले गए। मात्र 250 रुपये में खोले जाने वाले सुकन्या समृद्धि खाते में एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम डेढ़ लाख रूपये जमा किये जा सकते हैं। बालिका के 18 वर्ष की आयु प्राप्त कर लेने अथवा 10वीं कक्षा पास कर लेने के उपरांत जमा राशि का 50 प्रतिशत तक निकाला जा सकता है। खाते की परिपक्वता अवधि खाता खोलने की तारीख से 21 वर्ष है, तथापि बालिका द्वारा 18 वर्ष की आयु प्राप्त कर लेने के बाद विवाह के समय बंद किया जा सकता है।

इस कार्यक्रम में प्रवर डाकघर अधीक्षक राजन राव, ग्राम प्रधान आशापुर संतोष पाण्डेय, ग्राम प्रधान हिरामनपुर घनश्याम पटेल,  ग्राम प्रधान सिंघपुर श्याम प्रकाश, ग्राम प्रधान बरियासनपुर देवराज पटेल, सहायक डाक अधीक्षक सुरेन्द्र कुमार चौधरी, दिलीप सिंह यादव, निरीक्षक डाकघर रमेश यादव, सर्वेश सिंह, श्रीकान्त पाल, पोस्टमास्टर सारनाथ उपडाकघर रामरतन पाण्डेय, श्रीप्रकाश गुप्ता, कुलभूषण तिवारी, नितिन पांडेय सहित तमाम स्थानीय जनप्रतिनिधि, अधिकारी -कर्मचारी एवं सम्मानित जनता ने भागीदारी की।






डाकघर में एक ही छत के नीचे तमाम सेवाएं उपलब्ध - पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव

बालिकाओं के सशक्तिकरण में अहम भूमिका निभा रही सुकन्या समृद्धि योजना -पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव

सारनाथ में डाक मेले का पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने किया शुभारम्भ

Wednesday, July 20, 2022

इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक ने वित्तीय समावेशन को दी नई ऊंचाई - पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव

डाक विभाग के उपक्रम रूप में स्थापित इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक ने अल्प समय में ही अपनी नई पहचान बनाई है। ग्रामीण क्षेत्रों में वित्तीय समावेशन और डिजिटल इण्डिया के क्षेत्र में आज इसकी अहम् भूमिका है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं को इसके माध्यम से समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुँचाया जा रहा है। डाक विभाग उन तमाम लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए प्रतिबद्ध है, जिनके पास बीमा और अन्य वित्तीय सेवाओं तक आसान पहुंच नहीं है। उक्त उद्गार वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने डाक विभाग और इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की रीजनल मीट का 19 जुलाई, 2022 को वाराणसी में शुभारंभ करते हुए व्यक्त किये। इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले मंडलाधीक्षकों, आईपीपीबी मैनेजर्स और डाककर्मियों को भी पोस्टमास्टर जनरल ने सम्मानित किया।



पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि आईपीपीबी के माध्यम से डाकिया और ग्रामीण डाक सेवक आज एक चलते फिरते बैंक के रूप में कार्य कर रहे हैं। घर बैठे बच्चों का आधार बनाने, मोबाइल अपडेट करने, डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट, डीबीटी, बिल पेमेंट, एईपीएस द्वारा बैंक खाते से भुगतान, वाहनों का बीमा, स्वास्थ्य बीमा, दुर्घटना बीमा, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना जैसी तमाम सेवाएं डाकिया के माध्यम से घर बैठे मुहैया कराई जा रही हैं। आईपीपीबी में खाता होने पर डाकघर की सुकन्या, आरडी, पीपीएफ, डाक जीवन बीमा में भी ऑनलाइन जमा किया जा सकता है।    





 पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने इस अवसर पर इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की साझेदारी में बजाज आलियांज लाइफ स्मार्ट प्रोटेक्ट गोल और बजाज आलियांज लाइफ गारंटीड पेंशन गोल की बिक्री का भी शुभारंभ किया। बजाज आलियांज लाइफ स्मार्ट प्रोटेक्ट गोल एक व्यापक और मूल्य वर्धित टर्म बीमा उत्पाद है, जिसे घर के प्रमुख कमाने वाले व्यक्ति की असामयिक मृत्यु की स्थिति में एक परिवार को तत्काल वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने के लिए डिज़ाइन किया गया है। बजाज आलियांज लाइफ गारंटीड पेंशन गोल एक वार्षिकी बीमा योजना है, जिसका उद्देश्य व्यक्ति की सेवानिवृत्ति के बाद के खर्चों को पूरा करना है क्योंकि यह उसके जीवित रहने तक गारंटीड और निश्चित रूप से नियमित आय प्रदान करता है।


आईपीपीबी कॉरपोरेट ऑफिस के एजीएम श्री विकास दहल ने कहा कि डाक विभाग के विस्तृत एवं मजबूत नेटवर्क के माध्यम से हम अपने ग्राहकों को व्यापक वित्तीय समाधान प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

बजाज आलियांज लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन के जोनल मैनेजर श्री संदीप महाजन ने बताया कि यह साझेदारी हमारे लिए एक नया मील का पत्थर है क्योंकि हम आईपीपीबी और डाक विभाग के व्यापक नेटवर्क के माध्यम से ग्राहकों को मूल्य-पैक उत्पादों की पेशकश करने वाले पहले जीवन बीमाकर्ता हैं।

कार्यक्रम में विभिन्न मंडलों के अधीक्षक सर्वश्री राजन राव, पीसी तिवारी, राम मिलन, संजय त्रिपाठी, कृष्ण चंद, सहायक निदेशक दिनेश साह, बृजेश शर्मा, आईपीपीबी के चीफ मैनेजर मुकेश मिश्रा, वरिष्ठ प्रबंधक सुबलेश सिंह सहित विभिन्न ब्रांचेज के मैनेजर्स और डाककर्मी उपस्थित रहे।




Friday, July 15, 2022

Shri Kashi Vishwanath Temple Prasad through Speed post at doorsteps across the country in the month of Sawan - Postmaster General Krishna Kumar Yadav

There is a special magnificence of worshiping Lord Shiva in the holy month of Sawan. Everyone has a wish that he can have a glimpse of the Jyotirlinga of Lord Shiva and get their blessings. After the inauguration of Shri Kashi Vishwanath Corridor by Prime Minister Shri Narendra Modi, the number of devotees in Shri Kashi Vishwanath Temple has significantly increased. Even then some devotees are unable to visit Shri Kashi Vishwanath Temple even after desiring to. Now such devotees need not to be disappointed. Through the Speed post service of the Department of Posts, people can get the offerings of Shri Kashi Vishwanath Temple at their door steps sitting at home in any corner of the country. In the month of Sawan, Postal department has made special arrangements for this. The above information was given by Shri Krishna Kumar Yadav, Postmaster General of Varanasi Region.

Postmaster General Mr. Krishna Kumar Yadav said that under an agreement signed between the Department of Posts and Shri Kashi Vishwanath Temple Trust, devotees residing in any corner of the country can order Prasad from Shri Kashi Vishwanath Temple through Speed Post. To avail this service, an e-money order of ₹ 251 has to be remitted from the nearest Post Office in the name of Senior Superintendent of Post Office, Varanasi (East) Division-221001. As soon as the e-money order is received, the Prasad will be sent through Speed Post to the addressee  immediately. The packaged Prasad will be in a tamper proof envelope, on which a replica of the postage stamp issued on the Ghat of Varanasi is inscribed. It cannot be tampered in any way. Apart from this, it can also be obtained from the Varanasi City Post Office counter for just ₹ 201, added Mr. Yadav.

Contents of Shri Kashi Vishwanath Prasad-

Postmaster General Mr. Krishna Kumar Yadav told that the Prasad includes image of Shri Kashi Vishwanath Jyotirlinga, Mahamrityunjay Yantra, Shri Shiv Chalisa, 108 beads of Rudraksh garland, coin having Bhole Baba’s image inscribed with Mata Annapurna, Bhabhuti, Raksha Sutra , Rudraksh bead, dry fruits, mishri packet etc. Since the Prasad is dry, it may be used for a long time.

Senior Superintendent Post Office, Varanasi East Division Mr. Rajan said that the Postal Department has also made arrangements that the devotees will get the details of Speed Post on mobile number through SMS. For this, it will be mandatory for them to write their full address, pin code and mobile number in the e-money order.

Thursday, July 14, 2022

सावन माह में घर बैठे स्पीड पोस्ट से प्राप्त करें श्री काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद - पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव

सावन के महीने में शिव आराधना की विशेष महिमा है। हर किसी की इच्छा होती है कि वह भगवान  शिव के ज्योतिर्लिङ्ग स्वरूप का दर्शन और आशीर्वाद स्वरुप प्रसाद पा सके। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के उद्घाटन बाद श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में श्रद्धालुओं की संख्या में भी बढ़ोत्तरी हुई है। परन्तु कुछ श्रद्धालु चाहकर भी श्री काशी विश्वनाथ मंदिर का दर्शन नहीं कर पाते। अब ऐसे श्रद्धालुओं को निराश होने की आवश्यकता नहीं है। डाक विभाग की स्पीड पोस्ट सेवा के माध्यम से लोग देश के किसी भी कोने में घर बैठे श्री काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद प्राप्त कर सकते हैं। सावन माह में डाक विभाग ने इसके लिए विशेष प्रबंध किये हैं। उक्त जानकारी वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने दी।

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि डाक विभाग और श्री काशी विश्वनाथ मंदिर ट्रस्ट के बीच हुये एक एग्रीमेण्ट के तहत देश के किसी भी कोने में रह रहे श्रद्धालु स्पीड पोस्ट से श्री काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद मँगा सकते हैं। इसके तहत अपने नजदीकी डाकघर से मात्र ₹ 251 रूपये का इलेक्ट्रानिक मनीआर्डर प्रवर अधीक्षक डाकघर, वाराणसी (पूर्वी) मंडल-221001 के नाम भेजना होगा। ई-मनीऑर्डर प्राप्त होते ही डाक विभाग द्वारा तत्काल दिए गए पते पर स्पीड पोस्ट द्वारा प्रसाद भेज दिया जाएगा। डिब्बा बंद प्रसाद टेंपर प्रूफ इनवेलप में होगा, जिस पर वाराणसी के घाट पर जारी डाक टिकट की प्रतिकृति भी अंकित होगी। इससे किसी भी तरह की छेड़छाड़ नहीं की जा सकती है। इसके अलावा इसे मात्र ₹ 201 में वाराणसी सिटी डाकघर के काउंटर से भी प्राप्त किया जा सकता है।

श्री काशी विश्वनाथ प्रसाद में शामिल वस्तुएं-

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि प्रसाद में श्री काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिङ्ग की छवि, महामृत्युंजय यंत्र, श्री शिव चालीसा, 108 दाने की रुद्राक्ष की माला, बेलपत्र, माता अन्नपूर्णा से भिक्षाटन करते भोले बाबा की छवि अंकित सिक्का, भभूति, रक्षा सूत्र, रुद्राक्ष मनका, मेवा, मिश्री का पैकेट इत्यादि शामिल हैं। सूखा होने के कारण यह प्रसाद लम्बे समय तक उपयोग में बना रहता है।

प्रवर अधीक्षक डाकघर, वाराणसी पूर्वी मंडल श्री राजन ने बताया कि, डाक विभाग ने इस बात के भी प्रबंध किए हैं कि, श्रद्धालुओं को मोबाइल नंबर पर स्पीड पोस्ट का विवरण एस.एम.एस के माध्यम से मिलेगा। इसके लिए उन्हें  ई-मनीऑर्डर में अपना पूरा पता, पिन कोड और मोबाइल नंबर लिखना अनिवार्य होगा।










मात्र ₹ 251 रूपये का ई-मनीआर्डर भेजकर डाक विभाग के माध्यम से घर बैठे पाएं श्री काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद