Sunday, February 28, 2016

राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर में 22 एटीएम हुए आरम्भ, डाक निदेशक केके यादव ने मारवाड़ जंक्शन प्रधान डाकघर में एटीएम का किया उद्घाटन


डाकघर से जुड़े उपभोक्ताओं के लिए पाली मंडल के मारवाड़ जंक्शन प्रधान डाकघर में बहुप्रतीक्षित एटीएम सेवा शनिवार से शुरू हो गई।  प्रधान डाकघर प्रांगण में लगे एटीएम का उद्घाटन राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर  के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने 27 फरवरी को किया। 

इस अवसर पर निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि आई. टी. मॉडर्नाइजेशन के तहत सभी डाकघरों को कोर बैंकिंग (सीबीएस) से जोड़ा जा रहा है, आने वाले दिनों में नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग एवं एटीएम सुविधाओं का डाकघरों में भी लाभ उठा सकेंगे। पाली मंडल के सभी 54 डाकघरों को सीबीएस से जोड़ा जा चुका है। वर्तमान परिदृश्य  में बैंकिंग प्रणाली में ए.टी.एम. सुविधा ने आमजन की प्रमुख एवं प्रथम आवश्यकता  का रूप धारण कर लिया है, इसी के मद्देनजर पाली प्रधान डाकघर, मारवाड जंक्शन प्रधान डाकघर और सुमेरपुर डाकघर में एटीएम सेवा आरम्भ की गई है। गौरतलब है कि मार्च 2016 तक राजस्थान परिमंडल में 64 और राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर में 24 एटीएम आरम्भ करने का लक्ष्य है, जिसके तहत पूरे राजस्थान में 58 और इनमें से 22 एटीएम राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर में कार्य करना आरम्भ कर चुके हैं। 


  एटीएम सेवा का शुभारम्भ करते हुए निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि इसके बाद डाकघरों में बचत खाता रखने वाले लोग भी अब डेबिट कार्ड का इस्तेमाल कर सकेंगे और बैंकों की तर्ज पर किसी भी डाकघर से लेन.देन और एटीएम सुविधा का उपयोग हो सकेगा। रकम निकासी के साथ ग्राहक अपना स्टेटमेंट भी ले सकेंगे।  उन्होंने कहा कि आरम्भिक तौर पर इस एटीएम का इस्तेमाल डाकघरों के खाताधारक ही कर सकेंगे।  इस एटीएम से एक दिन में 25 हजार रूपये और एक बार में 10 हजार रूपये निकालने की सुविधा होगी।  इस पर किसी प्रकार का निकासी शुल्क नहीं लगेगा।  मात्र 50 रूपयेे में बचत खाता खुलवाकर एटीएम सेवा का लाभ लिया जा सकता है।  

निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग का उद्देश्य समावेशी विकास के तहत शहरों के साथ-साथ सुदूर ग्रामीण अंचल स्थित लोगों को भी सेवाओं का त्वरित लाभ पहुँचाना है। आने वाले दिनों में ग्रामीण डाक सेवकों सहित विभाग के सभी कर्मचारियों को सूचना प्रौद्योगिकी के माहौल में प्रभावकारी तरीके से कार्य करने के लिए तैयार करना है। इसी क्रम में ग्रामीण शाखा डाकघरों को भी तकनीकी तौर पर दक्ष बनाने के उद्देश्य से ग्रामीण आईसीटी के तहत  हाईटेक किया जायेगा और वहाँ पर नेटबुक व हैण्डहेल्ड डिवाइस भी दिया जायेगा। शाखा डाकघरों को सोलर चार्जिंग उपकरणों से जोडने के साथ-साथ मोबाइल थर्मल प्रिन्टर, स्मार्ट कार्ड रीडर, फिंगर प्रिन्ट स्कैनर, डिजिटल कैमरा एवं सिगनेचर व दस्तावेज स्कैनिंग के लिये यन्त्र भी मुहैया कराया जायेगा ताकि ग्रामीण लोगों को इन सुविधाओं के लिये शहरों की तरफ न भागना पडे।

इस अवसर पर पाली  मंडल के डाक अधीक्षक श्री डी.आर. सुथार  ने बताया कि खाताधारकों को एटीएम की सुविधा लेने हेतु एटीएम कार्ड आवेदन फार्म भरकर जमा कराना होगा। इसमें केवाईसी और  नो योर कस्टमर के तहत खाता संख्या से जुड़े दस्तावेज, पहचानपत्र व घर के पते की प्रमाणित प्रति भी उपलब्ध करानी होगी। उन्होंने कहा कि डाकघरों में निवेश की तमाम योजनायें हैं, जिनमें बचत खाता, आवर्ती जमा, सावधि जमा, मासिक आय योजना, पी. पी. एफ., सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम, सुकन्या समृद्धि योजना एवं  राष्ट्रीय बचत पत्र व किसान विकास पत्र में निवेश किया जा सकता है। 


मारवाड़ जंक्शन  प्रधान डाकघर के पोस्टमास्टर श्री लक्ष्मण नाथ ने इस अवसर पर डाक निदेशक, अधीक्षक और अन्य अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि  प्रधान डाकघर में  27 हजार से ज्यादा बचत खाते संचालित हो रहे हैं  और एटीएम सेवा आरम्भ होने के बाद ग्राहकों की संख्या और बढेगी।

Post a Comment