Saturday, February 27, 2016

माई स्टैम्प की सुविधा अब जोधपुर क्षेत्र के 16 डाकघरों में उपलब्ध




डाक टिकट पर अभी तक आपने गांधी, नेहरू या ऐसे ही किसी महान विभूति की फोटो देखी होगी। पर अब डाक टिकट पर आप की फोटो भी हो सकती है और ऐसा संभव है डाक विभाग की ’’माई स्टैम्प’’ सेवा के तहत। उक्त जानकारी राजस्थान के पाली जिले स्थित प्रधान डाकघर में 27 फरवरी, 2016 को माई स्टैम्प’’ सेवा का शुभारम्भ करते हुए राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव ने दी। श्री यादव ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी के बीच सेल्फी का क्रेज खूब बढ़ रहा है, ऐसे में उनकी सेल्फ़ी  भी माई स्टैम्प के तहत  डाक टिकट पर स्थान पा सकती है।  किसी को उपहार देने का इससे नायब तरीका शायद ही हो। अब आप इसे चाहें अपने परिवारजनों को दें, मित्रों को या फिर अपने किसी करीबी को। आप किसी से बेशुमार प्यार करते हैं, तो इस प्यार को बेशुमार दिखाने का भी मौका है। जन्मदिन से लेकर विवाह और जीवन की  तमाम खुशियों के पलों को माई स्टैम्प पर लाया जा सकता है। इस अवसर पर श्री यादव ने तमाम लोगों को माई स्टैम्प की शीट अपने हाथों से देकर प्रोत्साहित किया। 

डाक विभाग की माई स्टैम्प सेवा के सम्बन्ध में  निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि इस हेतु सम्बंधित डाकघर में एक फार्म भरकर उसके साथ अपनी फोटो और 300 रुपये जमा करने होते हैं। एक शीट में कुल 12 डाक-टिकटों के साथ फोटो लगाई जा सकती है।  पाँंच रुपए के डाक-टिकट, जिस पर आपकी तस्वीर होगी, वह देशभर में कहीं भी भेजी जा सकती है। इस पर सिर्फ जीवित व्यक्तियों की ही तस्वीर लगाई जा सकती है।

डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि माई स्टैम्प की थीम फिलहाल आकर्षक पर्यटन स्थलों और खूबसूरत फूलों पर आधारित रखी गई है। इनमें फ़िलहाल हवा महल और फूलों की थीम के साथ यह उपलब्ध कराया जा रहा है।  राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र में कुल 16 डाकघरों -  जोधपुर, जैसलमेर, पाली, नागौर, बीकानेर, बाड़मेर, सीकर,  सिरोही, जालौर, झुंझुनू, चिडावा, श्री गंगानगर, हनुमानगढ़, चुरू, रतनगढ़  प्रधान डाकघरों और माउंट आबू उपडाकघर में माई स्टैम्प सेवा उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि 2 से 100 शीटलेट्स की खरीद पर 10  प्रतिशत छूट और 100 से ज्यादा शीटलेट्स की खरीद पर 20 प्रतिशत छूट भी उपलब्ध कराई जाएगी। ऐसे स्कूल-कॉलेज या संस्थान जो अपने यहाँ बल्क में लोगों की माई स्टैम्प बनवाना चाहते हैं, ऐसे संस्थान प्रधान डाकघर के पोस्टमास्टर या अधीक्षक से संपर्क कर सकते है। 

श्री यादव ने  कहा कि लोगों को डाक टिकटों और पत्रों की दुनिया से जोड़ने हेतु कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। डाक टिकटों के संग्रह अर्थात फिलेटली के प्रति स्कूली बच्चों और युवाओं में अभिरुचि विकसित करने पर भी जोर दिया जायेगा। मात्र 200 रूपये में लोग फिलेटलिक डिपाजिट एकाउंट खुलवा सकते हैं, जिसके तहत उन्हें घर बैठे नई डाक टिकटें रजिस्टर्ड पत्र द्वारा हर माह प्राप्त होंगी। 

इस अवसर पर  पाली मंडल के डाक अधीक्षक श्री डी.आर. सुथार, पाली डाकघर के पोस्टमास्टर श्री सी. डी. सोनी, सहायक डाक अधीक्षक श्री संग्राम भंसाली , क्षेत्रीय कार्यालय से सहायक डाक अधीक्षक श्री पुखराज राठौड, डाक निरीक्षक श्री राजेन्द्र सिंह भाटी, सहित तमाम अधिकारी, कर्मचारी, डाक टिकट संग्राहक  व स्कूली बच्चे उपस्थित रहे।












Post a Comment