Wednesday, September 20, 2017

झुंझुनू प्रधान डाकघर में खुलेगा ‘इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक’ और आधार कार्ड अपडेशन सेन्टर - डाक निदेशक केके यादव

डाक विभाग प्रधानमंत्री मोदी जी की "डिजिटल इण्डिया" और "वित्तीय समावेशन" संकल्पना को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है। देश के हर कोने में, हर दरवाजे पर डाक विभाग की पहुँच है और वह लोगों के सुख-दुःख में बराबर रूप से जुड़ा हुआ है। डाक सेवाएं नवीनतम टेक्नालॉजी  अपनाते हुए नित्य नए आयाम रच रही हैं। उक्त उद्गार श्री कृष्ण कुमार यादव, निदेशक डाक सेवाएं, राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर ने 19 सितंबर, 2017  को झुंझुनू में आयोजित वृहद डाक मेले में व्यक्त किये। 
"डिजिटल इण्डिया" और "वित्तीय समावेशन" के क्षेत्र में डाक विभाग की योजनाओं की चर्चा करते हुए डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग अपनी बचत बैंक और बीमा सेवाओं को ऑनलाइन करने के बाद अब बैंकिंग क्षेत्र में भी कदम रखने जा रहा है।  डाकघर और बैंकों के एटीएम को आपस में जोड़ने  (interoperable) से लोगों को काफी सहूलियत हो गई है। डाक विभाग को पेमेंट बैंक का दर्जा मिलने के बाद इसकी सेवा और पहुँच में और भी इजाफा होगा। झुंझुनू प्रधान डाकघर में भी इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की शाखा खोली जाएगी। 

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि इण्डिया पोस्ट पेमेंट बैंक  गाँवो, कस्बों और दूरदराज के इलाकों में बैंकिंग सुविधाओं से वंचित तथा कम बैंकिंग वाले इलाकों में भुगतान बैंक के जरिए लोगों में अपनी पैठ बनाएगा। ये बैंक ग्राहकों से जमा ले सकते हैं किंतु लोन नहीं दे सकते। ये बैंक अपने ग्राहक से एक लाख रुपये तक की राशि जमा कर सकते हैं। ये एटीएम/डेबिट कार्ड जारी करेंगे, लेकिन क्रेडिट कार्ड नहीं। ये अपने ग्राहकों को इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा भुगतान और धन भेजने की सेवाएं मुहैया कराएँगे। पेमेंट बैंक से डाक विभाग देश भर के सुदूर ग्रामीण हिस्सों तक अपने 1.55  लाख डाकघरों के जरिये पहुंच बनाएगा। डाक निदेशक श्री यादव ने कहा कि इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक से मूल बैंकिंग, भुगतान और प्रेषण सेवाएं प्रदान करने के द्वारा वित्तीय समावेशन और बीमा, म्युचुअल फंड, पेंशन और ग्रामीण क्षेत्रों एवं बैंक रहित और बैंक के अंतर्गत कार्य करने वाले क्षेत्रों पर विशेष रूप से ध्यान देते हुए तीसरे पक्ष के वित्तीय प्रदाताओं के साथ समन्वय के माध्यम से ऋण तक पहुंच जैसी सुविधाएं भी मिलेंगी।

श्री यादव ने कहा कि ई-कामर्स को बढ़ावा देने हेतु कैश ऑन डिलीवरी, लेटर बाक्स से नियमित डाक निकालने हेतु नन्यथा मोबाईल एप एवं डाकियों द्वारा एण्ड्रोयड बेस्ड स्मार्ट फोन आधारित डिलीवरी जैसे तमाम कदम विभाग की "डिजिटल इण्डिया" के तहत की गई पहल हैं। आधार कार्ड का वितरण करने वाला डाक विभाग अब आधार अपडेट भी कर रहा है और शीघ्र ही झुंझुनू प्रधान डाकघर में आधार कार्ड अपडेशन सेन्टर भी खोला जाएगा। 

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि ग्रामीण सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी प्रोजेक्ट के तहत झुंझुनू के ग्रामीण शाखा डाकघरों को भी शीघ्र हाईटेक किया जायेगा और वहाँ पर  हैण्डहेल्ड डिवाइस  दिया जायेगा। इसके तहत  शाखा डाकघरों को ऑनलाइन और डिजिटल बनाने के लिए सोलर चार्जिंग उपकरणों से जोडने के साथ-साथ मोबाइल थर्मल प्रिन्टर, स्मार्ट कार्ड रीडर, फिंगर प्रिन्ट स्कैनर, डिजिटल कैमरा एवं सिगनेचर व दस्तावेज स्कैनिंग के लिये यन्त्र भी मुहैया कराया जायेगा ताकि ग्रामीण लोगों को इन सुविधाओं के लिये शहरों की तरफ न भागना पडे और घर बैठे ही वे अपना भुगतान प्राप्त कर सकें। शाखा डाकघरों में स्पीड पोस्ट बुकिंग सुविधा का आरंभ भी किया गया है।
वित्तीय समावेशन की पहल पर डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाकघरों में हर वर्ग और उम्र के हर पड़ाव के लिए अलग-अलग बचत और बीमा योजनाएँ हैं। 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' अभियान के तहत प्रधानमंत्री श्री मोदी जी द्वारा 10 साल तक की बालिकाओं के लिए आरम्भ सुकन्या समृद्धि योजना की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि इससे बालिकाओं का आर्थिक सशक्तिकरण होगा और उनकी उच्च शिक्षा और  विवाह में काफी सुविधा होगी। देश में मुख्यधारा से वंचित लोगों व उनके परिवारों को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से आरम्भ अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना एवं प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन में भी डाकघरों द्वारा  सक्रिय भूमिका के  निर्वहन का श्री यादव ने उल्लेख किया। 

इस अवसर पर झुञ्झुनु डाक मण्डल के डाक अधीक्षक श्री के. एल. सैनी ने कहा कि कि आज भी डाकघरों की बचत और बीमा  योजनाएं सर्वाधिक लोकप्रिय हैं और इनमें लोग पीढ़ी दर पीढ़ी पैसे जमा करते हैI डाकघरों में हर वर्ग और उम्र के हर पड़ाव के लिए अलग-अलग बचत  और बीमा योजनाएँ हैं। उन्होंने बताया कि मेले के दौरान 3512 बचत खाते, 435 सुकन्या समृद्धि खाते, डाक जीवन बीमा के तहत 3 लाख 80 हजार रूपये और ग्रामीण डाक जीवन बीमा के तहत 8 लाख 23 हजार रुपए का न्यू प्रीमियम प्राप्त किया गया। इसके अलावा 104 माई स्टैम्प शीट और 36 फिलेटलिक डिपोजिट अकाउंट खाते खोले गए। प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के 1894 प्रस्ताव, अटल पेंशन योजना के 22 प्रस्ताव और प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना के 71 प्रस्ताव प्राप्त किये गये I

निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने इस अवसर पर लोगों को पासबुकें व पॉलिसी बांड भी सौंपे। इस दौरान केशव आदर्श विद्या मंदिर झुंझुनू के प्रधानाचार्य श्री राजेश शर्मा, सहायक डाक अधीक्षक श्री आर. एस. चौहान, श्री धर्मपाल सिंह ढाका, डाक निरीक्षक श्री आर. पी. कुमावत, श्री हरी प्रसाद कुरी, श्री पारसमल सुथार, प्रधान डाकघर पोस्टमास्टर  श्री लालू  राम भील सहित डाक विभाग के तमाम अधिकारी-कर्मचारी,  बचत अभिकर्तागण व नागरिकजन उपस्थित रहे।




Post a Comment