Friday, August 25, 2017

बेटियों के उज्ज्वल व समृद्ध भविष्य से जुड़ी है डाकघर की "सुकन्या समृद्धि योजना" - डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव

आज का दौर बेटियों का है। बेटियाँ समाज में नित नये मुकाम हासिल कर रही हैं। बेटियों की समृद्धि और खुशहाली में ही समाज का भविष्य टिका हुआ है। इसीलिए बेटियों की उच्च शिक्षा और उनके विवाह में सुविधा के लिए 10 वर्ष तक की बेटियों हेतु डाकघरों में सुकन्या समृद्धि योजना आरंभ की गयी है। उक्त उदगार राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने जालोर जनपद के गुढ़ा बालोतान स्थित उम्मेदपुर गाँव में सुकन्या समृद्धि योजना के लिये आयोजित मेले में 24 अगस्त, 2017 को व्यक्त किये। गाँव की 10 वर्ष तक की समस्त योग्य 110 बालिकाओं के सुकन्या खाते खोलकर उम्मेदपुर गाँव जालोर जिले का तीसरा “सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि योजना ग्राम” बन गया है।


 इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में अपने सारगर्भित सम्बोधन में राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' के अंतर्गत बालिकाओं  के राष्ट्र निर्माण पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि सुकन्या समृद्धि योजना सिर्फ निवेश का एक माध्यम नहीं है, बल्कि यह बालिकाओं के उज्ज्वल व समृद्ध भविष्य से भी जुड़ा हुआ है। इस योज़ना के आर्थिक के साथ साथ सामाजिक आयाम भी महत्वपूर्ण हैं। इसमे जमा धनराशि पूर्णतया बेटियों के लिए ही होगी, जो उनकी शिक्षा, कैरियर  एवं विवाह में उपयोगी होगी।
डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग का उद्देश्य समावेशी विकास के तहत शहरों के साथ-साथ सुदूर ग्रामीण अंचल स्थित लोगों को सभी योजनाओं के तहत लाना है।  देश में मुख्यधारा से वंचित लोगों व उनके परिवारों को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से आरम्भ अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना एवं प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन में भी डाकघरों द्वारा एक मुख्य व सक्रिय भूमिका का निर्वहन किया जा रहा है। श्री यादव ने डाकघर में खुले समस्त खातों को आधार और मोबाईल नंबर से जोड़ने पर भी जोर दिया, जिससे  भविष्य मे आने वाली सभी सरकारी योजनाओं का लाभ ग्राहकों को मिल सके। मोबाईल नंबर को खातों मे जुडवाने से  प्रत्येक जमा एवं निकासी की सूचना एसएमएस द्वारा उनके मोबाईल पर आ जाएगी। 
इस अवसर पर सिरोही मण्डल के अधीक्षक डाकघर श्री डी.आर. पुरोहित ने कहा कि सिरोही-जालोर डाक मंडल में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत कुल 31,474 खाते खोले जा चुके हैं तथा सात गाँवों को सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि गाँव  घोषित किया जा चुका हैं। 


कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि सरपंच श्रीमती शारदादेवी ने कहा कि बालिकाओं के आर्थिक सशक्तिकरण की दिशा में उठाया गया यह प्रयास एक मील का पत्थर साबित होगा। पूर्व सरपंच उम्मेदपुर श्री ओटर मल ने कहा कि ग्रामवासियों के लिए यह अत्यन्त गर्व की बात है कि  “सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि योजना ग्राम” बनकर उम्मेदपुर “बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ” अभियान को मूर्तरूप दे रहा है।
इस अवसर पर डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने बालिकाओं को पासबुकें व उपहार देकर उनके सुखी व समृद्ध भविष्य की कामना की। इस अवसर पर सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रिंसिपल श्री प्रतापा राम, डॉक्टर मनीराम, आयुर्वेद चिकित्सक, सहायक डाक अधीक्षक श्री राजेन्द्र सिंह भाटी, बी.एस. राजपुरोहित, शाखाडाकपाल उम्मेदपुर श्री जैसा राम सहित डाक विभाग के तमाम कर्मचारी, स्थानीय जनप्रतिनिधि व गाँववासी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन सहायक डाक अधीक्षक श्री बी.एस.राजपुरोहित ने किया।
बेटियों की समृद्धि और खुशहाली में ही समाज का भविष्य सुरक्षित-डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव 

 जालोर जिले का उम्मेदपुर गाँव बना “सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि योजना ग्राम”, गाँव की सभी  110 बालिकाओं के खाते खोले

बेटियों की समृद्धि से भविष्य सुरक्षित-डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव 
Post a Comment